Chhattisgarh Raipur

अच्छी पहल: ब्लू व्हेल गेम से बच्चों को बचाने छत्तीसगढ़ पुलिस चलाएगी जागरुकता अभियान

रायपुर। देश सहित दुनियाभर में इन दिनों खौफ का पर्याय बन चुके रुसी गेम ब्लू व्हेल से राज्य के बच्चों को बचाने के लिए छत्तीसगढ़ पुलिस अब जागरुकता अभियान चलाएगी। पुलिस ने इसके लिए जनता के बीच सुझाव पत्र भी बांटे हैं। एडीजी आरके विज़ ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि, प्रदेश के सभी थाना प्रभारियों को इस संबंध में जागरुकता अभियान चलाने निर्देशित किए गए हैं।

एडीजी विज़ ने बताया कि, प्रदेश के नागरिकों को इस गेम से बचाने हम हर संभव मदद करेंगे। यदि जरुरुत पड़ी तो दो मनोवैज्ञानिकों को शमिल कर एक पांच सदस्यीय कमेटी भी बनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि, इस गेम को फॉलो करने वाले के पास इस गेम का एक वेब लिंक प्रसारित होता है, जिसे सक्रिय करने के बाद वह, गेम संचालक के निर्देशों का पालन करने बाध्य हो जाता है। उन्होंने बताया कि, ऐसी जानकारी मिली है कि, इस गेम का संचालक अपने दिए गए निर्देशों के गेम खेलने वाले से निर्देशों के पालन की तस्वीर भी बतौर साक्ष्य अपने पास मंगवाता है। निर्देशों को फॉलो नहीं करने की स्थित में वह भावनात्मक रुप से प्रताडि़त करता है।

विज़ ने कहा कि, कोई भी बच्चा यदि अकेलापन महसूस करे। उसका ध्यान दूसरी ओर लगे। मोबाइल और इंटरनेट में ज्यादा समय बिताए । तो वैसे बच्चे को उसकी मानसिक दशा से बाहर लाने का प्रयास करना चाहिए। यदि इस गेम से संबंधित लिंक यदि कोई प्रसारित करे तो इसकी जानकारी पुलिस के आपात नंबर 100 या निकटतम पुलिस थाना व पुलिस के वरिष्ठ पुलिस अफसरों को दें। एडीजी ने बताया कि, इस प्रकार के एक भी प्रकरण छत्तीसगढ़ पुलिस के संज्ञान में नहीं आए हैं। ना ही इस संबंध में पुलिस को कोई शिकायत या सूचना मिली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *