Chhattisgarh Raipur

गरीबी से लडऩे में मदद करती है हमारी सरकार

रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि छत्तीसगढ़ सरकार सिर्फ नारे नहीं लगाती बल्कि अपनी योजनाओं के जरिए गरीबी के खिलाफ लडऩे के लिए गरीबों की मदद करती है। सरकार की योजनाएं आम जनता के जीवन में परिवर्तन लाने के लिए हैं और सर्व समाज की बेहतरी के लिए हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश में गांव, गरीब और किसानों के विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है और इसके लिए कई योजनाओं की शुरूआत की है।
मुख्यमंत्री आज दोपहर सरगुजा जिले के ग्राम-बटवाही (विकासखण्ड-लुण्ड्रा) में प्रगति और आवास मेले का शुभारंभ करने के बाद विशाल जनसभा को संबोधित कर रहे थे। डॉ. सिंह ने कहा-सरकार की योजनाओं से विगत लगभग दस वर्ष में सरगुजा की तस्वीर काफी बदल गई है। पूरे सरगुजा संभाग में सड़कों और पुल-पुलियों का जाल बिछाया जा रहा है। सरगुजा विकास की ऊंचाईयों को छू रहा है। उन्होंने बटवाही में इस विशाल आयोजन का उल्लेख करते हुए कहा-इतनी बड़ी संख्या में जनता की उपस्थिति विकास योजनाओं के प्रति लगातार बढ़ती जनभागीदारी का परिचायक है। डॉ. सिंह ने कहा-अकेले सरगुजा संभाग में इस समय 670 करोड़ रूपए की सड़के बन रही हैं। संभागीय मुख्यालय अम्बिकापुर में एयरपोर्ट निर्माण के लिए शासन द्वारा 23 करोड़ 53 लाख रूपए मंजूर किए गए, जिसका निर्माण तेजी से पूर्णता की ओर है। रेल और रोड कनेक्टिविटी के बाद सरगुजा बहुत जल्द विमान यातायात सेवाओं से भी जुड़ जाएगा।
कई निर्माण कार्यों को मंजूरी : डॉ. रमन सिंह ने प्रगति और विकास मेले में जन प्रतिनिधियों के आग्रह पर ग्राम रघुनाथपुर में नए बए स्टैण्ड के निर्माण, ग्राम पंचायत बटवाही, लामगांव और रघुनाथपुर में सीमेंट कंाक्रीट सड़क की मंजूरी देने की घोषणा की। उन्होंने बटवाही ग्राम पंचायत के नवापारा में 125 एकड़ की सिंचाई क्षमता वाले स्टॉप डेम निर्माण के लिए एक करोड़ 25 लाख रूपए और विकासखण्ड मुख्यालय लुण्ड्रा में सब्जी उत्पादक किसानों के लिए नर्सरी निर्माण हेतु एक करोड़ 50 लाख रूपए भी तत्काल मंजूर करने का ऐलान किया।
आठ हजार हितग्राहियों को लाभ : जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा-गरीबी उन्मूलन और जनता का सामाजिक, आर्थिक विकास कैसे होता है यह देखना हो तो को छत्तीसगढ़ में हो रहे कार्यों को देखना चाहिए। सरगुजा सहित प्रदेश के सभी इलाकों में सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है। राज्य के जिन गरीब परिवारों को कभी कनकी (चावल के टुकड़े) खाकर गुजारा करना पड़ता था, आज उन्हें सिर्फ एक रूपए किलो में चावल मिल रहा है। उन्होंने बटवाही के प्रगति और विकास मेले में एक ही स्थान पर 8 हजार से ज्यादा हितग्राहियों को विभिन्न योजनाओं का लाभ मिलने का उल्लेख करते हुए कहा कि इस आयोजन में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत एक साथ चार हजार 792 परिवारों को मकान स्वीकृति पत्र दिए गए हैं। यह इस बात का परिचायक है कि ये परिवार अब एक नये युग में प्रवेश कर रहे हैं। उन्हें कहीं भटकने या मकान के लिए किसी भी व्यक्ति के आगे पीछे घूमने की जरूरत नही है। योजना के तहत उनको लगभग डेढ़ लाख रूपए का पक्का मकान मिलेगा।
हर परिवार को भोजन और इलाज दिलाना मेरी जिम्मदारी : डॉ. सिंह ने कहा-मुख्यमंत्री होने के नाते प्रदेश के प्रत्येक गरीब परिवार के लिए भोजन और इलाज की समुचित व्यवस्था करना मेरी और मेरे सरकार की जिम्मेदारी है जिसे हम लोग बखूबी निभा रहे हैं। गरीबों को चावल और नमक उपलब्ध कराने की भी सरकार ने व्यवस्था की है। उन्होंने कहा- डॉक्टर होने के नाते मैंने यह महसूस किया कि गरीबों को बीमार पडऩे पर इलाज के लिए पैसों की कमी से काफी परेशानी होती है। इसे ध्यान में रखकर उन्हें स्वास्थ्य बीमा की सुविधा देने की योजना बनाई। यह योजना गरीबों के साथ-साथ सामान्य लोगों के लिए भी है। मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत आमदनी के बंधन से परे प्रदेश के सभी परिवारों को स्मार्ट कार्ड के आधार पर सालाना 50 हजार रूपए तक नि:शुल्क इलाज की सुविधा दी जा रही है।
सरगुजा में सिंहदेव पर रमन ने ली चुटकी ! बोले- नेता प्रतिपक्ष को मुझ पर ही भरोसा है
सरगुजा पहुंचे मुख्यमंत्री रमन सिंह ने दावा किया है कि इस बार सरगुजा से बेहतर रिजल्ट आयेगा और 2018 में एक बार फिर बीजेपी की ही सरकार बनेगी। मुख्यमंत्री रमन सिंह से जब ये पूछा गया कि आप क्या विपक्ष को चुनौती नहीं मान रहे हैं। जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष तो चुनौती है, सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी है, पिछले 15 सालों से कांग्रेस विपक्ष में है, कांग्रेस से कठिन मुकाबला है , पिछली बार सरगुजा से थोड़ी कमी रह गयी थी, जिसका सभी को पछतावा है, लेकिन इस बार सरगुजा से बेहतर रिजल्ट आयेगा। वहीं नेता प्रतिपक्ष के कल लिखे पत्र के बारे में जब मुख्यमंत्री रमन सिंह से पूछा गया तो मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘ये तो अच्छी बात है कि नेता प्रतिपक्ष मुझ से ही उम्मीद करते हैं, वो हमेशा हम पर भरोसा करते हैं, क्योंकि उन्हें पता है कि मैं ही उनकी मांगों को पूरा किया हूं और आगे भी 2018 में सरकार बनने के बाद मैं ही उनकी मांगों को पूरा करूंगा, अब तक जो-जो चीजें मांगी है, वो सब चीजें दिया हूं, आगे भी पूरा करूंगा, मेडिकल कालेज दिया, इंजीनियरिंग कालेज दिया हूं, आगे भी दूंगा, मैं उनकी बातों को बहुत गंभीरता से लेता हूं, मजाक में नहीं लेता ‘दरअसल मुख्यमंत्री को कल पत्र भेजकर नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने बटवाही के लिए एक शक्कर कारखाना और एक कालेज की मांग की थी। उसी सवाल के जवाव में नेता प्रतिपक्ष पर मुख्यमंत्री ने चुटकी ली। हालांकि उन्होंने ये भी साफ किया कि वो उनकी बातों को बेहद गंभीरता से लेते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *