Travel

छत्तीसगढ़ : ‘पर्यटकों का स्वर्ग’

प्रकृति की गोद में बसेे छत्तीसगढ़ को प्राकृतिक सौंदर्य की दृष्टि से ‘पर्यटकों का स्वर्ग’ कहा जाता है। अनोखी प्राकृतिक छटा, दुर्लभ वन्‍यजीव सम्‍पदा और अनेक प्राचीन मंदिरों, पौराणिक स्थलों से सजा छत्तीसगढ़ अपने आप में अद्भुत सौन्‍दर्य समाए हुए है।

जहां एक ओर छोटी-छोटी पर्वत मालाएं और उसकी गोद में अठखेलियां करती हुई नदियां बरबस ही अपनी ओर ध्‍यान आकर्षित करती हैं वहीं दूसरी ओर अनेक प्राचीन मंदिर, पुरातात्विक स्थल, शैलचित्र गुफाएं जैसे ऐतिहासिक और धार्मिक दर्शनीय स्‍थल भी हैं जिनकी सुंदरता सैलानियों का मन मोह लेती है।

Image Courtesy

यहां अनेक दार्शनिक स्थलों का नैसर्गिक सौंदर्य प्रकृति की अनुपम देन है। यही वजह है कि छत्‍तीसगढ़ में पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से साल 2002 में छत्‍तीसगढ़ पर्यटन मंडल (Chhattisgarh Tourism Board) का गठन किया गया है। इसका उद्देश्‍य है कि राज्‍य को एक अंतर्राष्‍ट्रीयस्‍तर के पर्यटन राज्‍य के रूप में विकसित करना तथा राज्‍य की सांस्‍कृतिक धरोवर को संरक्षित एवं समृद्ध करना।

Image Courtesy

Cover Image Courtesy

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *