Chhattisgarh Raipur

छत्तीसगढ़ भाजपा के एक बड़े नेता निकले एचआईवी पॉजीटिव!

रायपुर। अनेक तरह के विवादों में घिरी प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी और उसकी सरकार के सामने एक बड़ा संकट खड़ा हो गया है। पार्टी और सरकार के एक बड़े नेता को एचआईवी पॉजीटिव निकला है। दांत का इलाज कराने एक डॉक्टर के पास पहुंचे भाजपा के इस नेता के खून की जांच कराई गई, तो उसमें एचआईवी पॉजीटिव पाया गया है। इतना ही नहीं, उनके कान में भी दिक्कत बताई गई है और उन्हें सुनाई देना कम हो गया है, जिसके कारण अब वे कान के पास एक छोटी से मशीन लगाने लगे हैं।
भाजपा के इस बड़े नेता को एचआईवी पॉजीटिव होने की जानकारी राजधानी के चिकित्सा क्षेत्र से जुड़े अधिकतर डॉक्टरों के पास हैं लेकिन कोई इसकी पुष्टि नहीं कर रहा है। भाजपा के इस बड़े नेता को एचआईवी पॉजीटिव होने की खबर के बाद प्रकरण की तस्दीक की गई तो ‘छत्तीसगढ़ डॉट.को’ को इस खबर की पुष्टि करते हुए कुछ दस्तावेज हासिल हो गए। इनमें राजधानी के एक पैथालॉजी लैब की वह रिपोर्ट भी है, जिसमें यह बताया गया है कि भाजपा के इस नेता के खून में एचआईवी के कण मौजूद हैं।
इस तरह पता चला
इस नेता के करीबी व राजधानी के कई डॉक्टरों ने बताया कि दांत में दर्द होने के कारण यह नेता एक दंत चिकित्सक के पास पहुंचा था। प्रारंभिक जांच में पाया गया कि नेता की दाढ़ में मवाद भर गया है लिहाजा उसका एक छोटा ऑपरेशन करना पड़ेगा। ऑपरेशन से पहले भाजपा नेता के खून की जांच कराई गई और जब रिपोर्ट आई तो उसे देखकर दंत चिकित्सक के होश उड़ गए। रिपोर्ट में साफ लिखा है कि भाजपा नेता को एचआईवी पॉजीटिव है। इसके बाद दाढ़ का ऑपरेशन तो नहीं किया गया, अलबत्ता कम सुनाई देने के कारण एक चिकित्सक ने उसके कान में एक छोटी सी मशीन लगा दी, जिससे वह साफ सुनने लगा है।
कुछ महीने पहले गया था विदेश
बताया गया है कि भाजपा के जिस नेता की खून की रिपोर्ट में एचआईवी पॉजीटिव निकला है, वह कुछ महीने पहले ही सरकारी खर्च पर विदेश यात्रा करके लौटा है। आशंका जताई गई है कि असुरक्षित यौन सम्पर्क बनाने के कारण यह स्थिति बनी है लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हुई है।
नाम छिपाने की कानूनी बाध्यता
‘छत्तीसगढ़ डॉट को’ के पास भाजपा नेता का नाम व उसकी पूरी रिपोर्ट मौजूद है लेकिन उसका नाम उजागर करने का अधिकार कानून में नहीं दिया गया है। नियमानुसार एचआईवी संक्रमित किसी भी पुरुप या महिला का नाम या किसी भी प्रकार की पहचान उजागर नहीं की जा सकती है। इसलिए भाजपा नेता का नाम गोपनीय रखा जा रहा है।
अम्बेडकर में प्रारभिक जांच 
बताया गया है कि खून की जांच रिपोर्ट के आधार पर भाजपा नेता का राजधानी के अम्बेडकर अस्पताल में प्रारंभिक उपचार शुरू कर दिया गया है साथ ही मुंबई तथा अन्य शहरों के डॉक्टरों से भी परामर्श लिया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *