India

देखिए बानगी… महिलाओं पर ऐसी है अफसरों-नेताओं की सोच

नई दिल्ली। एक कार्यक्रम में महिला सशक्तिकरण के लिए काम करने वाली महिलाओं को निर्भया अवॉर्ड से सम्मानित करने के दौरान कर्नाटक के पूर्व डीजीपी एच.टी सांगलियान ने कथित तौर पर बेहद आपत्तिजनक बयान दे दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वह कह बैठे, निर्भया की मां के फिजिक को देखकर पता चलता है कि निर्भया कितनी सुंदर रही होगी। हालांकि मामले को तूल पकड़ता देख उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि लोग इसे बेवजह मुद्दा बना रहे हैं।

इस मामले के मीडिया में सामने आने के बाद भी एच.टी सांगलियान ऐसे आपत्तिजनक बयान पर माफी मांगने की बजाय उसे सही ठहराते नजर आए। एचटी सांगलियान ने बयान को लेकर सफाई देते हुए कहा, मैंने कहा था कि निर्भया की मां का बहुत अच्छा फिजिक है और निर्भया भी सुंदर रही होगी। यह बयान सिर्फ महिलाओं की कोमलता और किसी सुंदर व्यक्ति के बारे में बताना था। यही नहीं एक तरह से इसे सही ठहराते हुए पूर्व डीजीपी ने कहा, मुझे भी अकसर लोग कहते हैं कि आप बहुत स्लिम और यंग दिखते हैं। मैं इस पर खुशी महसूस करता हूं। हालांकि मामले को तूल पकड़ता देख उन्होंने सफाई देते हुए कहा, मैं अपने बयान को पूरी तरह से सीमा के अंदर समझता हूं और मुझे लगता है कि लोग बेवजह इसे मुद्दे बना रहे हैं।

आज भी लोगों की मानसिकता नहीं बदली

 

निर्भया की मां ने कहा, बेहतर होता अगर उन्होंने निजी टिप्पणी करने के बजाय हमारी लड़ाई और संघर्ष के बारे में बोला होता। इससे पता चलता है कि हमारे समाज में आज भी लोगों की मानसिकता और सोच बदली नहीं है।

रिपोर्टर ने पूछा सवाल, मंत्री बोले- बहुत सुदंर लग रही हो

चेन्नै। तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री सी. विजयभास्कर की ओर से महिला रिपोर्टर ने सवाल पूछा तो उन्होंने कोई जवाब देने की बजाय उसे खूबसूरत बता कन्नी काट ली। एआईएडीएमके के मुख्यालय में विधायकों की मीटिंग से बाहर आने के दौरान रिपोर्टर ने भास्कर से सवाल पूछा था कि मीटिंग के दौरान क्या फैसले लिए गए। इस पर कोई जवाब देने की बजाय भास्कर ने कहा, आप बहुत अच्छी लग रही हैं।

अगले सवाल पर भी भास्कर ने यही जवाब दिया। मंत्री ने लगातार तीन बार रिपोर्टर से कहा कि आप अच्छी लग रही हैं। यही नहीं एक अन्य सवाल पूछे जाने पर मंत्री ने कहा कि आपके चश्मे अच्छे लग रहे हैं। मंत्री की इस टिप्पणी की सामाजिक और महिला अधिकार कार्यकर्ता निंदा कर रहे हैं। महिला ऐक्टिविस्ट बृंदा दिंगे ने कहा कि यह टिप्पणी महिलाओं के प्रति उनकी सोच और पितृसत्तात्मक रवैये को दर्शाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *