Chhattisgarh Gariaband

बल-बाल बचा चालक

 फिंगेश्वर। मुद्दयी लाख बुरा चाहे तो क्या होता है, वही होता है जो मंज़ूरे-ख़ुदा होता है। बीस मिनट तक भारी बस के नीचे दबकर भी जिंदा बचना किस्मत की ही बात होती है लेकिन इस धटना ने उपर लिखे शायरी को सही साबित कर दिया है। धटना दिनांक 18 मई (शुक्रवार) कि है जब राजिम-महासमुंद मार्ग पर फिंगेश्वर के समीप आम बगीचे के सामने एक तेज रफ़्तार बस ने मोटर-साईकिल सवार को अपने चपेट में ले लिया। यह खबर फैलते ही सैंकड़ों की संख्या में नगर वासी घटना स्थल पर पहुंचने लगे। हाहाकार तो तब मचा जब लोगो ने बस के नीचे दबे व्यक्ति को जिंदा देखा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जय मां मौली बस क्र. CG 10 G 0446 जो कि महासमुंद कि ओर से फिंगेश्वर जा रही थी, वाहन चालक के लापरवाही के कारण अनियंत्रित बस ने उसी दिशा से फिंगेश्वर कि ओर जा रहे होंडा ट्विस्टर क्र. CG 04 KF 2485 सवार 22 वर्षीय उमेश यादव को अपनी चपेट में ले लिया। बस ने सड़क से करीब पांच फिट नीचे तक मोटर-साईकिल को घसीटता हुआ सीधे खेत में जा गिरा और बस के नीचे अपनी मोटर-साईकिल के साथ फंसा उमेश यादव। करीब बीस मिनट तक अमेश बस के नीचे दबा रहा। घटना स्थल पर पहुंचे लोगों ने रासते से गुजर रहे ट्रक की सहायता से बस को वापस रोड पर खींचा। घटना स्थल पर पहुंची थाना फिंगेश्वर के गाड़ी में युवक को ततकाल नजदीक के स्वास्थ केन्द्र फिंगेश्वर में लाया गया।

फिंगेश्वर थाना के एस.आई. जे.एल.पटेल ने बताया की घटना बस ड्राइवर द्वारा लापरवाही पुर्वक गाड़ी चलाने से हुई है। साथ ही दुर्घटनाग्रस्त लोग भी एक बाईक पर तीन लोग सवार थे, जिनके नाम क्रमश: उमेश यादव जिसे पैर में चोंट आई है, ओंकार यादव जिसे कमर में चोंट आई है और योगेश यादव तो कि बिना किसी चोट के पाया गया है। थाना एस.आई. ने बताया कि बस का ड्राईवर घटना के बाद से फरार है और समाचार लिखे जाने तक वाहन मालिक का पता नहीं चल पाया है। प्रार्थी उमेश यादव के शिकायत पर पुलिस ने बस पर धारा 279 व 337 पंजीबद्व कर बस को अपने हिरासत में ले लिया है। घायल लोगों जिन्हें कुछ चोंटें आईं हैं उनका फिंगेश्वर उप-स्वास्थ केन्द्र में इलाज चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *