Bilaspur Chhattisgarh

बैठक में अभय जब शैलेष से भिड़ गए

बिलासपुर। विधानसभा चुनाव से पहले शहर में बने चुनावी माहौल के बीच शहर कांग्रेस की बैठक में हुए बवाल से राजनीतिक फिजां में बहार आ गई है। कांग्रेस की गुटबाजी उस समय खुलकर सामने आ गई, जब अभय नारायण राय और शैलेष पाण्डेय के बीच जमकर तू-तू-मैं-मैं हुई। दोनों के बीच बढ़े विवाद ने कांग्रेस भवन में खलबली मचा दी। कांग्रेसियों के काफी हस्तक्षेप के बाद मामला किसी तरह शांत हुआ।
गुरूवार को कांग्रेस भवन में शहर कांग्रेस की बैठक थी। इसमें शैलेष पाण्डेय और अभय नारायण राय के बीच हुए विवाद ने कांग्रेस को चुनावी वैतरणी पार करने के लिए सोचने मजबूर कर दिया है। आपको बता दें कि अभय नारायण काफी पुराने कांग्रेसी है तो वहीं प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव के खास माने जाते हैं। बताया जाता है शैलेष पाण्डेय के कांग्रेस में आने से अटल खेमा को उनकी लोकप्रियता नागवार गुजर रही है। कहा जा रहा है दिन-प्रतिदिन शैलेष की कांग्रेस में बढ़ती पैठ और अटल खेमे से सदस्यों की घटती संख्या से उनका गुस्सा फूटना लाजिमी है। कुछ माह पहले ही अटल एक पार्टी में शैलेष से भिड़ गए थे तो वहीं गुरूवार को अभय शैलेष से भिड़ गए। उल्लेखनीय है कांग्रेस 21 मार्च से बिलासपुर में वार्डवार पदयात्रा करने जा रही है। इस संबंध में गुरूवार को कांग्रेस भवन में वरिष्ठ नेताओं से लेकर वार्ड पार्षदों की बैठक बुलाई गई थी। बैठक के दौरान कांग्रेस भवन की बदहाली को लेकर एक बात उठी। इस पर शैलेष के साथ कुछ सक्षम नेताओं ने उसको ठीक ठाक करने का बीड़ा उठाया लेकिन शैलेष पाण्डेय की एंट्री वरिष्ठ नेता अभय नारायण राय को नागवार गुजरी। उन्होंने विरोध करते हुए बैठक में सिर्फ पदयात्रा की बात करने को कहा।

मंत्री समर्थकों में दौड़ी खुशी की लहर
आपकों बता दें कि शहर में भाजपा और कांग्रेस की जुबानी जंग थमने का नाम नहीं ले रही है। इन सबके बीच गुरूवार को शहर के कांग्रेस भवन में आयोजित शहर कांग्रेस की बैठक में जो कुछ हुआ, उससे मंत्री समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ गई। उनके बीच माहौल ऐसा बन गया है जैसे मानों विधानसभा चुनाव का परिणाम आ गया हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *