Chhattisgarh Raipur

भारतीय सेना के बारे में टिप्पणी अक्षम्य: जोगी

रायपुर। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के संस्थापक अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा है कि मुजफ्फरनगर, उत्तरप्रदेश की छह दिवसीय संघ प्रमुख मोहन भागवत की यात्रा के अंतिम दिन स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुये भारतीय सेना की क्षमता बारे में आलोचनात्मक टिप्पणी सेना का मनोबल गिराने वाली है। उन्होंने कहा है कि मोहन भागवत की सेना को हतोत्साहित करने वाली अमर्यादित टिप्पणी जिसमें उन्होंने कहा है कि आर.एस.एस. के स्वयंसेवक केवल तीन दिन के अंदर युद्ध के लिये तैयार हो सकते हैं, वहीं भारतीय सेना के सैन्य कर्मियों को तैयार होने में छह-सात माह लग जाते हैं। मोहन भागवत का यह कथन अद्भुत एवं अकल्पनीय है। जोगी ने संघ प्रमुख मोहन भागवत के बयान पर घोर आपत्ति दर्ज करते हुये कहा है कि भागवत ने भारतीय सेना एवं जांबाज सैनिकों की क्षमता पर उंगली उठाई है, जिससे देशवासी हतप्रभ हैं तथा भागवत की इस टिप्पणी पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह एवं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपनी प्रतिक्रिया अवश्य करना चाहिए। इस गंभीर विषय पर नरेन्द्र मोदी व अमित शाह को चुप्पी नहीं साधना चाहिए तथा मोहन भागवत को देशवासियों एवं सेना तथा सैन्य कर्मियों से क्षमा याचना करना चाहिए। मोहन भागवत द्वारा इतना जोश खरोश दिखाने से पहले अपने संघ के अतीत की ओर झांक कर देखना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *