India Uncategorized

मुझे दीपिका पादुकोण के साथ काम करना है: राजकुमार राव

शाहिद, अलीगढ, बोस जैसी फिल्मों में असल जिंदगी के किरदारों को निभाने वाले बॉलिवुड के बेहतरीन अभिनेता राजकुमार राव इन दिनों अपनी एक और बायॉपिक ओमार्टा के साथ तैयार हैं। हंसल मेहता के निर्देशन में तैयार यह फिल्म 20 अप्रैल को सिनेमाघरों में रिलीज़ होगी। राजकुमार राव इन दिनों जी-जान से अपनी फिल्म के प्रमोशन में जुटे हैं। हमसे हुई खास बातचीत में राजकुमार ने फिल्म के अलावा दीपिका के साथ अपनी जोड़ी बनाने की इच्छा, बदलते फिल्म कॉन्टेंट, अंतरराष्ट्रीय बाजार में बॉलिवुड फिल्मों के असर और खुद पर निर्माताओं के बढ़ते भरोसे पर बात की।

टैलंट और खूबसूरती का कॉम्बिनेशन हैं दीपिका

राजकुमार कहते हैं, मैंने दीपिका पादुकोण के साथ एक सेल्फी सोशल मीडिया में पोस्ट की तो तमाम फैंस ने सोचा हम साथ में कोई फिल्म करने वाले हैं। मैं आशा करता हूं कि हमें चाहनेवालों की विश जल्दी पूरी हो। मुझे खुद दीपिका के साथ काम करना है। मेरे ख्याल से दीपिका बहुत टैलंटेड और बेहद खूबसूरत एक्ट्रेस हैं। यह जो टैलंट और खूबसूरती का कॉम्बिनेशन होता है, बहुत कम देखने को मिलता है। दीपिका ने अपनी पहली फिल्म से अब तक एक ऐक्ट्रेस के तौर पर बहुत आगे निकल गई हैं। यह बहुत ही अतुलनीय बात है।

अब निर्माताओं का भरोसा बढ़ रहा है मुझ पर

न्यूटन, बरेली की बर्फी, ट्रैप्ड जैसी फिल्मों की सफलता और सराहना के बाद निर्माता राजकुमार पर भरोसा कर रहे हैं। इस पर राजकुमार कहते हैं, जी हां अब जाकर निर्माताओं को मुझ पर एक भरोसा तो आया है कि एक निश्चित बजट की फिल्म वह मेरे साथ बना सकते हैं। आशा करता हूं सभी निर्माताओं की उम्मीद को पूरा करूं।

कोई फूहड़ काम नहीं करूंगा

आने वाले समय में अपनी फिल्मों के चुनाव पर राजकुमार कहते हैं, मुझे तो सभी अच्छे निर्देशकों के साथ काम करना है, बस एक बात का ध्यान रखता हूं कि कोई भी काम ऐसा न करूं जो फूहड़ लगे।

दर्शकों की वजह से बदल रहा है बॉलिवुड का सिनेमा

फिल्मों की कहानियों और कॉन्टेंट में आ रहे तेजी से बदलाव पर राजकुमार ने कहा, मुझे लगता है फिल्मों में जो कॉन्टेंट में चेंज आ रहा है उसकी वजह आज का हमारा यंग दर्शक है। यह यूथ इंटरनेट के जरिए देश-दुनिया की बेहतरीन फिल्में देख रहा है और वह चाहते हैं कि हमारा सिनेमा भी अंतरराष्ट्रीय स्तर का बने। यूथ की इसी उम्मीद के कारण बॉलिवुड के निर्देशक-निर्माता कलाकार और मेहनत कर रहे हैं और सिनेमा की सामग्री बदल रही है, अच्छी कहानियां देखने को मिल रही हैं। यूथ अच्छी कहानियां खोज रहा है और जब उसे कोई अच्छी कहानी मिल जाती है वह उसे हाथों-हाथ लेते हैं।

हिंदी मीडियम को बजरंगी भाईजान से ज्यादा ओपनिंग मिली

बॉलिवुड फिल्मों के बढ़ते अंतरराष्ट्रीय बाजार पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए राज कहते हैं, चीन और यूक्रेन जैसे देशों में हिंदी फिल्मों का कॉन्टेंट खूब देखा जा रहा है। इस हफ्ते चीन में रिलीज़ हुई बॉलिवुड फिल्म हिंदी मीडियम… बजरंगी भाईजान से ज्यादा ओपनिंग के साथ खुली। यह बड़ा बदलाव है। आप अच्छी कहानी बनाएंगे तो दुनिया भर में सराहना मिलेगी और फिल्म बिजनस भी अच्छा होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *