Bilaspur Chhattisgarh

वाट्सएप ग्रुप में राजस्व मंत्री पर आपत्तिजनक टिप्पणी, नप गया पटवारी

बिलासपुर। वाट्सएप ग्रुप में छत्तीसगढ़ के राजस्व मंत्री प्रेमप्रकाश पांडे पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाला पटवारी खुद ही नप गया है। उसे निलंबित कर दिया गया है।

घटना 7 मई को सामने आई थी। राज्य के पटवारियों का वाट्सएप पर छत्तीसगढ़ पटवारी टाइम्स नाम से एक ग्रुप है।  ग्रुप में एक पटवारी निखिल झा ने राजस्व मंत्री को कुछ ऐसा कह दिया जो चलताऊ शब्दों की श्रेणी में आता है। पटवारी की मानें तो राजस्व मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय को सोचने समझने की क्षमता नहीं है, जिसके चलते पटवारियों को 2400 ग्रेड पेमेन्ट नहीं मिला है।

निखिल झा की मानें तो उन्होंने सहीही लिखा है। झा के मुताबिक स्वयं मंत्री पाण्डेय ने इन्हीं चलताऊ शब्दों का प्रयोग सार्वजनिक रुप से खुद के लिए करते हुए कहा था कि ‘क्या मुझे………समझ रखा है’। ग्रुप में झा की टिप्पणी के बाद इसे लेकर पटवारियों व अमले के बीच हड़कंप मच गया था।

मंत्री के खिलाफ टिप्पणी के बाद कुछ लोगों ने ग्रुप छोड़ दिया था। इसी बीच किसी ने राजस्व मंत्री से इस बात की शिकायत कर दी। शिकायत के संबंध में राजस्व मंत्री के कार्यालय से कलेक्टर को पत्र प्रेषित कर मामले की जांच कराने व कार्रवाई से अवगत कराने की बात कही गई थी। राजस्व मंत्री के कार्यालय से शिकायत की कॉपी भी भेजी गई थी। मंत्री से मिले निर्देश को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर ने अतिरिक्त कलेक्टर केडी कुंजाम को जांच का जिम्मा सौंपा था। अंतत: पटवारी झा को निलंबित करते हुए कलेक्टर पी अम्बलगन ने सस्पेंशन पीरियड में मरवाही तहसील मुख्यालय अटैच कर दिया है।

बता दें कि निखिल झा की ही तरह सोशल मीडिया में प्रशासन के खिलाफ लिखने पढने की आदत ने सूरजपुर और सुकमा के बड़े अधिकारियों को खामियाजा भुगतना पड़ा है। हाल ही में फेसबुक पर रायपुर सेन्ट्रल जेल की डिप्टी जेलर वर्षा डोंगरे ने भी अपने विचार लिखे और गृहमंत्री रामसेवक पैकरा के आदेश पर वर्षा डोंगरे को सस्पेंड कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *