Chhattisgarh Raigarh

सारंगढ़ से हरदी व दानसरा जाने के लिये जर्जर सडक़ से गुजरना होगा?

सारंगढ़। सारंगढ़ अंचलवासियो को लगता है जर्जर सडक़ से मुक्ति मिलने की संभावना बहुत कम है। लोक निमार्ण विभाग के द्वारा आसन्न वर्ष के बजट में शामिल करने के लिये भेजा गया विभागीय प्रस्ताव में सारंगढ़ से हरदी मार्ग के नवीनीकरण का कार्य 2.40 करोड़ रूपये और सारंगढ़ से दानसरा रोड़ का नवीनीकरण 1.35 करोड़ रूपये की राशी का कार्य को स्वीकृति प्रदान नही किया गया। जिसके कारण से इस वर्ष यह रोड़ का निमार्ण नही होगा।
वही हरदी से लेकर दानसरा तक की जर्जर सकड़ पर बीटी रिनीवल तक के लिये आबंटन नही आने से इस जर्जर रोड़ को झेलना सारंगढ़ अंचल के लिये मजबूरी हो गई है। सारंगढ़ रहवासियो के लिये बुरी खबर यही है कि सारंगढ़ से हरदी तक के रोड़ तथा सारंगढ़ से दानसरा तक के सडक़ के लिये लोक निमार्ण विभाग के द्वारा जो प्रस्ताव विभागीय बजट में जोडऩे के लिये भेजा गया था वह बजट में नही जुड़ पाया। हालांकि इस संबंध में जानकारी लेने के लिये लोक निमार्ण विभाग के एसडीओ खाखा जी से तथा उपयंत्री दुष्यंत डनसेना से दो तीन बार संपर्क किया गया किन्तु एसडीओ सारंगढ़ से ना सिर्फ नदारद रहते है बल्कि दूरभाष पर भी संपर्क नही होते है। ऐसे में उक्त मार्ग को लेकर वस्तुस्थिति की जानकारी कोई अधिकृत तौर पर नही दिया है किन्तु कार्यालय के सूत्र बताते है कि उक्त दोनो प्रमुख सडक़ के नवीनीकरण के लिये भेजा गया प्रस्ताव ध्वस्त हो गया है। इस प्रस्ताव के स्वीकृति नही होने से सारंगढ़ से हरदी तक 7 किलोमीटर की लंबी सडक़ पर यातायात का नाम सिर्फ दबाव रहेगा बल्कि पूर्ण रूप से जर्जर हो चुके इस सडक़ से सरकार के द्वारा किया गया विकास का दावा खोखला साबित होगा। वही सारंगढ़ से दानसरा की 5 किलोमीटर लंबी सडक़ भी उलझ कर रह गई जिससे क्षेत्रवासियो को जर्जर सडक़ को झेलना मजबूरी हो गया है। पूरे मामले में क्षेत्रीय विधायक श्रीमती केराबाई मनहर और क्षेत्रीय सांसद विष्णुदेव साय की सक्रियता को तौलकर देखा जा रहा है। पड़ोसी विधानसभा क्षेत्र रायगढ़ और बिलाईगढ़ में लोक निमार्ण विभाग के द्वारा हर छोटे मोटे प्रस्ताव को स्वीकार कर बजट में स्वीकृति कराया गया है किन्तु सारंगढ़ में अति महत्वूपर्ण सडक़ के प्रस्तावो को स्वीकृति नही मिली है? इस कारण से क्षेत्रवासी जर्जर सडक़ को भोगने के लिये मजबूर रहेगेंं। उल्लेखनीय है कि हरदी से दानसरा तक बाईपास सडक़ का निमार्ण होने से हरदी से सारंगढ़ तक 7 किलोमीटर लंबी सडक़ तथा सारंगढ़ से दानसरा तक 5 किलोमीटर लंबी सडक़ को नेशनल हाईवे के द्वारा वापस लोक निमार्ण विभाग को सौप दिया गया है। जिसके कारण से उक्त सडक़ का निमार्ण अब मुश्किल दिख रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *