Chhattisgarh

सीएम रमन की सरगुजा भाजपा को कड़ी नसीहत

अंबिकापुर। चुनाव का समय आएगा तो वोट माँगने निकल जाते हो, और बाकी समय नेताओं की आलोचना करते हो, कैसे चलेगा बताओ, क्या मतदाता ऐसे में आपके आव्हान पर वोट देने का मानस बनाएगा।
सीएम डॉ रमन ने भाजपा सरगुजा कार्यालय के बंद कमरे में उपरोक्त बातें कहीं तो सन्नाटा पसर गया। कभी भाजपा का गढ़ रहा अविभाजित सरगुजा एक सीट छोड़ कर शेष पर उम्मीदों से है। लेकिन इन उम्मीदों के पूरा होने के लिए बहुत से लेकिन प्रश्नवाचक चिन्ह बने अपनी जगह पूरी ताकत से मौजूद हैं। सीएम डॉ रमन सिंह के इस दो टूक अंदाज ने बताया कि, हाल और हालात और इसके पीछे के परिदृश्य से वे कितने करीब से परिचित हैं।
सीएम डॉ रमन ने विशिष्ट पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा सरकार ने योजनाओं में कहीं कमी नही की है, हर वर्ग हर समूह के लिए योजनाएं हैं और उनका बेहतर से बेहतर क्रियान्वयन सरकार करा रही है, पर हाल यह है कि कार्यकर्ता ही योजनाओं की जानकारी नही रखता, आप को जानकारी है नहीं तो आप बताएंगे क्या। इस दौरान सीएम डॉ. रमन ने उपस्थित कार्यकर्ताओं से वन टू वन संवाद भी किया। सीएम डॉ रमन सिंह ने उद्बोधन के क्रम में यह भी कहा-मुझे विश्वास है कार्यकर्ता का पसीना वोट बनकर टपकेगा। यह कह पाना मुश्किल है कि बेहद गंभीर सबक देने वाले डॉ रमन सिंह की बातें कितने प्रभावी रुप से अमल में आ पाएँगी लेकिन डॉ रमन के सामने बीजेपी जिलाध्यक्ष अखिलेश सोनी के नेतृत्व में ली गई शपथ भी दिलचस्प है, जिसमें कहा गया है, 2019 में जबकि डॉ रमन के नेतृत्व में चौथी बार सरकार का गठन होगा, तो उनके साथ मौजूदा सरगुजा की तीनो सीट से चुन कर आए भाजपा विधायक भी नजर आएंगे।

उप चुनाव परिणाम पर बोले सीएम : नतीजे अति आत्मविश्वास का नतीजा

्र उत्तर प्रदेश और बिहार के उप चुनाव के नतीजे भाजपा के लिए तकलीफदेह रहे हैं, बिहार में लालटेन चमक गई तो यूपी में सायकल से वो धूल उड़ी कि कमल उड़ गया। इन नतीजों ने भाजपा को आत्मविश्लेषण का मौक़ा जरुर दे दिया होगा,अलहदा है कि इस पर आत्मविश्लेषण कितना निर्ममता से हो पाता है। लेकिन बेहद विनम्र और राजनीति की उंची नीची डगर के बारिक अनुभवी डॉ रमन ने इन नतीजों को लेकर बेहद गंभीर टिप्पणी की है, जो ना केवल उत्तर प्रदेश और बिहार के लिए है बल्कि बहुत ज्यादा प्रासंगिक छत्तीसगढ़ पर भी है।
सीएम रमन सिंह ने कहा-नतीजे अति आत्मविश्वास का नतीजा लगते है, यह अति आत्मविश्वास लगता हाँ कि कार्यकर्ता के मानस में आ गया था। बहुत शांत सुर में कही गई यह धीर गंभीर बात सूबे के कार्यकर्ताओं के लिए सबक़ है जिसे वक़्त रहते अच्छी तरह मथ कर मैदान में आने की जरुरत है

सीएम रमन ने खोला राज, एंटी इंकम्बंैसी रमन के खिलाफ नहीं

अंबिकापुर। सत्रह बरस के छत्तीसगढ़ में चौदह बरस के मुख्यमंत्री डॉ रमन के ख़िलाफ़ जिस एंटीइनकंबेसी की बात हर चुनाव के पहले विपक्ष करता है, ना केवल करता है बल्कि दावे के साथ करता है वह एंटीइनकमबैंसी चुनाव में नजर क्यों नहीं आती और अगर आती भी है तो उसका परिमाण कम क्यों होता है। यह रहस्य ख़ुद सीएम रमन ने सार्वजनिक किया, उन्होंने कहा- यह जो लोक सुराज है यह पूरे देश में इकलौता अभियान है, जो अनवरत चल रहा है, और यह अभियान मुझे मौका देता है कि मैं जनता से सीधे जान समझ सकूँ कि जो योजनाएँ उनके लिए बनी है आखऱि उनकी स्थिति ज़मीनी स्तर पर क्या है यह कहने के बाद सीएम रमन ने मुस्कुराते हुए देखा और कहा यही वह अभियान है जिसके कारण कभी डॉ रमन और उसकी सरकार के खिलाफ एंटीइंनकंबैसी नही बन पाती।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *