Chhattisgarh Raipur

रायपुर। कई विवादों के बाद आखिरकार भाजपा की राष्ट्रीय महासचिव और भाजपा की तरफ से राज्यसभा उम्मीदवार ने अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। कई दिनों से उम्मीदवारों को लेकर भाजपा में चल रही माथापच्ची से सोमवार को नामांकन दाखिल करने के बाद विराम लग गया है। लेकिन अब भी सरोज पांडेय के लिए मुसीबत कम नहीं हुई है। पहले तो प्रदेश अध्यक्ष धमरलाल कौशिश के साथ कथित रुप से राज्यसभा की उम्मीदवारी को लेकर विवाद चल रहा था। लेकिन भाजपा के राष्ट्रीय संगठन से सरोज पांडेय को हरी झंडी मिलने से ये विवाद खत्म हो गया है। और सीधा-सीधा सरोज को फायदा पहुंचे। इससे उनकी राज्यसभा की सीट लगभग पक्की हो गई है। लेकिन दूसरा विवाद आज नामांकन भरने के बाद शुरु हो गया है।
दरअसल एक मात्र सीट के लिए हो रहे राज्यसभा के लिए भाजपा की उम्मीदवार सरोज पांडेय ने बड़े दमखम के साथ नामांकन दाखिल किया है। न सिर्फ अपना एकतरफा दम दिखाया ब्लकि पूरी सरकार को निर्वाचन अधिकारी के सामने खड़ा कर दिया। लेकिन इस दौरान सरोज ने अपने ही क्षेत्र के दो बड़े चेहरे को साध नहीं पाई। ये इसलिए क्योकि नामांकन दाखिल करते वक्त सरोज पांडेय के साथ मुख्यमंत्री, प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री सौदाान सिंह समेत प्रदेश के तमाम कैबिनेट मंत्री मौजूद थे। लेकिन प्रदेश सरकार में उच्च शिक्षा मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय और प्रदेश के कद्दावर नेता व पूर्व कैबिनेट मंत्री हेमचंद यादव नामांकन के दौरान नहीं दिखे। मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय का इस दौरान न आना समझ में तो आता है। क्योकि सरोज और पीपी पांडेय का विवाद बहुत पुराना है। लेकिन हेमचंद यादव के नहीं शामिल होने से राजनैतिक गलियारों में चर्चा का विषय बन गया है।
जबकि सरोज पांडेय के नामांकन दाखिल करते समय जिले से मुख्य रूप से मंत्री रमशीला साहू, संसदीय सचिव लाभचंद बाफना, महापौर चंद्रिका चंद्राकर, चंद्रकांता मांडले, जिला पंचायत अध्यक्ष माया बेलचंदन, विधायक विद्यारतन भसीन, बीजेपी जिलाध्यक्ष सावला राम डाहरे, उषा टावरी, महिला मोर्चा की अध्यक्ष सरिता मिश्रा, रिंकी अग्रवाल, जिला महामंत्री देवेंद्र चंदेल समेत अन्य समर्थक बड़ी संख्या में मौजूद थे। यहीं वजह है कि आज दिनभकर इसी बात को लेकर चर्चा हो रही थी। वहीं नामांकन दाखिल करने वालों में प्रस्ताव व समर्थकों में सीएम डॉ. रमनसिंह, मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, अमर अग्रवाल, राजेश मूणत, रमशीला साहू व महेश गागड़ा शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *