ये तो ट्रेलर था पिक्चर अभी बाकी है ।
कोरोना ने अभी तक असली हिंदुस्तान पर दस्तक नहीं दी है। अभी तो केवल शहरों में एवं पैसे वाले माल दारों को ही निवाला बनाया है। अमेरिका की एक एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना ने 226 अरबपति कम कर दिए।
सोचिए जरा सोचिए पैसे वाला, माल धानी, अरबपति अगर खत्म हो जाता है तो किसी का कोई फर्क नहीं पड़ना है, जिस दिन गांव में कोरोना वायरस का प्रकोप हो जाएगा तो फिर कुछ नहीं बचना है। ना हालात काबू में होंगे, ना सही इलाज प्राप्त होगा। स्थिति भयावह हो जाएगी। ऊपर बैठे लोग आज अपनी अपनी पीठ खुद थपथपा रहे हैं। उन्हें इस बात का अंदेशा बिल्कुल नहीं है। तभी तो अन्य राज्यों से आ रहे मजदूरों का कोई माकूल टेस्ट के बिना गांव में उनके घरों में रहने दिया जा रहा है। अगर ये लोग संक्रमित मिलेंगें तो इनकी वजह से पूरा गांव संक्रमित हो जाएगा ।2–2….4—4 करके लुकाछिपी कर मजदूर अपने गांव पहुंच रहे हैं उन पर सख्त निगरानी रखनी होगी। शासकीय अस्पताल में केवल फीवर टेस्ट कर उन्हें छोड़ दिया जा रहा है उन्हें कुछ दिनों के लिए अलग नहीं रखा जा रहा है। यह कैसा गलत कदम है जिसके परिणाम भयावह एवं भयंकर होने की पूर्ण संभावना है। जरा सोचिए हमारे देश के गांव में यह महामारी अगर पसर जाती है तो इटली से भी ज्यादा दुखद समय हमें देखने पड़ेंगे। दूसरी बात अभी तक की स्थिति,, के अनुसार शहरी इलाके में ही इसे पाने की खबर है सैकड़ों हजारों रईस, पैसे वाला, अमीर जादा, साहूकार, जागीरदार ,नेता, विद्वान, टीवी एंकर, लेखक, कवि अगर मरता है तो हमारे देश को कोई फर्क नहीं पड़ेगा। देश रुकेगा नहीं चलता ही रहेगा।
मगर किसान, नाई, मोची, राज मिस्त्री, मजदूर, प्लंबर, इलेक्ट्रीशियन, घरेलू नौकर, बावर्ची आदि कोरोना वायर्स से मरते हैं तो 15 दिन के अंदर अंदर पूरा देश जहां का तहां खड़ा हो जाएगा। मेरे भाइयों अगर गांव में कोरोना फैल गया तो सब कुछ खत्म हो जाएगा।
अभी भी कुछ नहीं बिगड़ा है ।सभी जागरूक होंवे, और बाहर से आने वालों को खासकर वह मजदूर जो पलायन कर गए थे और उनकी अभी वापसी हो रही है, चाहे उनकी सरकारी अस्पताल में जांच हो गई हो उन्हें गांव से दूर स्कूल भवन या अन्य कोई और सरकारी भवन में 14 दिन जरूर रखें ।उन्हें किसी से मिलने जुलने ना दिया जाए। उन्हें हर सुविधा मुहैया कराई जाए। अपनी देखरेख में गांव की ही देखरेख में कम से कम 14 दिन अलग रखें। अगर कुछ भी लक्षण दिखे तुरंत नजदीकी अस्पताल, थाना, एसडीएम ,तहसीलदार को सूचित करें। आप सतर्क रहेंगे तो ही आप बचेंगे, आपका परिवार बचेगा, आपका गांव बचेगा, कोरोना वायरस से बचना है तो इसे विधि को गावों में तुरन्त लागू कर अपनाना होगा।
सतर्क रहें, मास्क पहने, हाथ साबुन से धोएं, घर पर ही रहे, थोड़े थोड़े देर में गर्म पानी पिए। कोरोना से बचने की पूरी गारंटी है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here