मनरेगा के तहत तालाब गहरीकरण कार्य में सैकड़ों के तादात में मजदूरों ने एक स्वर में रोजगार सहायक दुर्गावती निराला के खिलाफ प्रति मजदूर 100–100 रुपिये रिश्वत मांगने का आरोप लगाया है।
सरसींवा बिलाईगढ़ विकासखंड से 30 किलोमीटर की दूरी पर ग्राम पंचायत मुड़पार में मनरेगा के तहत ननकी तालाब में गहरी करण का काम चल रहा है जिसमें पहला सप्ताह 20/4 /2020से 24/4 /2020तक यानी 4 दिन तक चला फिर दूसरा सप्ताह 27 /4/2020 से 3/5/2020 तक 6 दिन तक कार्य चला उक्त तालाब गहरी करण कार्य में काम करने वाले महिला एवं पुरुष मजदूरों द्वारा एक स्वर में रोजगार सहायक कुमारी दुर्गावती निराला के खिलाफ प्रति मजदूर से 100– 100/रुपिये रिश्वत मांगने का आरोप लगाया है मजदूरों ने एक स्वर में रोजगार सहायक दुर्गावती के खिलाफ शिकायत करते हुए कहां है कि रोजगार सहायक दुर्गावती हमसे यह कहती है कि यदि तुम लोग मुझे 100–100 दोगे तभी मैं तुम लोगों के मजदूरी ₹1000–1000/रुपिये का भुकतान के लिए मस्टर रोल बनाउगी नहीं देने पर नहीं बनाऊंगी आगे मजदूरों ने दुर्गावती के बारे में यहां तक शिकायत की है, कि मनरेगा के (जाप कार्ड) बनाने के लिए प्रति मजदूर से ₹100-100 लिए गए हैं जो ₹100 नहीं देता उसको मनरेगा में काम करने के लिए उस मजदूर को (जाप कार्ड) नहीं देती है इस संबंध में स्थानीय सरपंच पवन साहू से पूछने पर सरपंच ने भी मनरेगा के रोजगार सहायक कुमारी दुर्गावती निराला दुवारा मजदूरों से 100 -100 रुपिये मांगने की बात स्वीकार किए सरपंच ने बताया कि मेरे सामने ही मजदूरों से मनरेगा में काम करने वाले मजदूरों का मस्टररोल में हाजिरी चढ़ाने के लिए 100–100 रुपिये मजदूरों से मांग किया गया है। वहीं मनरेगा में काम करने वाले मजदूरों ने अपने मजदूरी का सही व उचित भुगतान करने की मांग शासन प्रशासन से की है।
उक्त रोजगार सहायक की शिकायत ग्रामीणों के साथ-साथ सरपंच के द्वारा भी मोबाइल फोन से जनपद पंचायत सीईओ को मौके से की गई है जनपद पंचायत सीईओ ने उक्त शिकायत पर जांच टीम गठित कर प्रकरण की जांच करवा कर उचित कार्रवाई करने का आश्वासन दिया।
वही रोजगार सहायक कुमारी निराला से प्रति मजदूर100/रुपिये रिश्वत मागने जैसे आरोप लगने के बारे मे पूछा जाने से उन्होंने मजदूरों से रुपिये मागने से इनकार किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here