आज से Lockdown 4.0 शुरू हो गया है और इसके लिए गाइडलाइंस भी जारी हो चुकी है। इस नए लॉकडाउन में कई नई चीजें भी होंगी। हालांकि, इस बार Red, Green और Orange Zone की जिम्मेदारी राज्यों को सौंप दी गई है। अब राज्य सरकारें ही इनके बारे में फैसला लेंगी। हालांकि, इन सब के बीच ऑनलाइन फूड और शॉपिंग को भी मंजूरी मिल चुकी है और Amazon, Flipkart के साथ दूसरी ई-कॉमर्स साइट्स पर शॉपिंग की तैयारी हो चुकी है। कंपनियों ने वैसे तो पिछले महीने ही जरूरी और गैर-जूरीर सामान बेचना शुरू कर दिया था लेकिन कुछ तय इलाकों में ही यह सामान डिलेवर हो रहा था।

अब एक बार फिर से यह ई-कॉमर्स कंपनियां Smartphone, TV, Gadgets, Fashion प्रोडक्ट लेकर तैयार हैं राज्यों में इन्हें पहुंचाने के लिए हालांकि, इसके लिए इन कंपनियों को इंतजार है तो अलग-अलग राज्यों से आने वाली गाइडलाइन्स का जिसके बाद तय होगा कि कहां सामान डिलेवर होगा और कहां नहीं।

केंद्र सरकार के द्वारा जारी गाइडलाइंस में रेड झोन्स में सेवाएं शुरू होंगी लेकिन कंटोनमेंट एरियाज में तो अब भी कुछ नहीं मिलेगा। अब तक Amazon और Flipkart जैसी ई-कॉमर्स कंपनियां रेड झोन्स में केवल जरूरी सामान ही डिलेवर करती थीं लेकिन अब वो इन झोन्स में अब गैर-जरूरी सामान जैसे मोबाइल, लैपटॉप और दूसरे इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स की डिलेवरी भी कर सकेंगी।

हालांकि, इस पर भी अंतिम फैसला राज्यों की सरकारें ही लेने वाली हैं। इसका मतलब है कि फिलहाल राज्यों के रेड झोन्स में गैर-जरूरी सामान के ऑर्डर्स इन ई-कॉमर्स साइट्स ने लेना शुरू नहीं किया है। हालांकि, यह कंपनियां राज्यों के निर्देशों के अनुसार अपनी सेवाएं शुरू करने के लिए तैयार हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here