शेख हसन खान गरियाबंद

विगत दिनों राजिम मे कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के कारण प्रशासन के द्वारा जिले के सभी सैलून दुकानों को ऐतिहातन कुछ दिनों के लिए बंद करा दिया गया था। जिससे की इन दुकान्दारों के समक्ष रोजी रोटी का संकट खड़ा हो गया था। चूंकि हमारा गरियाबंद जिला आदिवासी व ग्रामीण बाहुल्य क्षेत्र है जहां गांव गांव में बहुत से छोटे व्यवसाय जैसे सलून, पान की दुकान छोटे शहरों में महिलाओं द्वारा ब्यूटी पार्लर जैसे व्यवसाय कर कई लोग अपना व अपने परिवार का जीविकोपार्जन करते हैं। इस संबंध में विगत दिनों क्षेत्र के सैलून संघ व पान दुकान वाले माननीय विधायक अमितेश शुक्ला को आवेदन कर अपनी व्यथा सुनाई थी जिस पर माननीय विधायक अमितेश शुक्ला ने सभी दुकानदारों को अपने परिवार का अभिन्न सदस्य मानते हुए उनके समस्या का त्वरित निराकरण करने का अाश्वासन दिया था। इसी कड़ी मे 21 मई को गरियाबंद पहुँच जिलाधीश को दिशा निर्देश देते हुए संक्रमित क्षेत्र राजिम को छोड़कर जिले के अन्य सभी जगहों पर सैलून व पान दुकान खोलना उचित होगा की बात कही थी जिस पर जिलाधीश ने तत्काल निर्णय लेने की बात कहकर आश्वस्त किया था।

इसी कड़ी मे शुक्रवार से जिले मे राजिम को छोड़ कर अन्य सभी जगहो पर अभी सैलून दुकानों को पूर्व आदेश के तहत और सभी नियमो का पालन करते हुए दुकानों को खोलने की अनुमति जिला प्रशासन की ओर से प्रदान कर दी गई है। जिला सैलून संघ के अध्यक्ष, पदाधिकारियों और इस व्यवसाय से जुड़े सभी दुकानदारों ने खुशी जाहिर करते हुए विधायक श्री अमितेश शुक्ल जी को धन्यवाद ज्ञापित किया है।धन्यवाद ज्ञापित करने वालो मे गरियाबंद अध्यक्ष अशोक सेन, मैनपुर से लोकेश सेन, देवभोग से तुना सेन, उरमाल से तरुण सेन, छुरा से भवानीशंकर सेन, पोंड से विजय श्रीवास, पांडुका से कुलेस्वर् सेन,पुष्पेंद्र सेन,वीरेंद्र सेन, चमन सेन,मनहरन सेन, पुखराज सेन,अजय सेन, बाजी सेन, हिरेन सेन शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here