मुजगहन के धनेली गांव का मामला, आगरा से कुछ दिन पहले लौटने पर क्वारैंटाइन सेंटर में रखा गया थालौटने के बाद युवक के दोस्त समेत तीनों को होम क्वारैंटाइन किया गया, पुलिस ने एफआईआर दर्ज की

रायपुर. रायपुर स्थित एक क्वारैंटाइन सेंटर से भागा युवक अपनी गर्लफ्रेंड को लेने के लिए पश्चिम बंगाल गया था। युवक शुक्रवार सुबह लौटा तब पता चला कि वह दोस्त के साथ यहां से भागा था। मामले में सरपंच की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी पर एफआईआर दर्ज कर ली। मामला मुजगहन क्षेत्र के धनेली गांव का है। फिलहाल, पुलिस ने तीनों को होम क्वारैंटाइन किया है।

जानकारी के मुताबिक, धनेली गांव निवासी विनय वर्मा आगरा में एग्रीकल्चर की पढ़ाई करता है। वह 13 मई को स्पेशल ट्रेन से लौटा था। इसके बाद उसे धनेली स्थित क्वारैंटाइन सेंटर में रखा गया था। एम्स में उसके सैंपल की जांच भी कराई गई, इसमें रिपोर्ट निगेटिव आई थी। इसके बाद विनय 20 मई की सुबह एक्ययूवी गाड़ी से अपने दोस्त सतीश के साथ गर्लफ्रेंड को लेने पश्चिम बंगाल चला गया। युवक के क्वारैंटाइन सेंटर से गायब होने की सूचना पर सरपंच संदीप वर्मा ने थाने में एफआईआर करा दी।

पहले से पश्चिम बंगाल जाने का बनवा रखा था पास

बताया जा रहा है कि विनय ने पश्चिम बंगाल आने-जाने के लिए अपना पास बनवाया था। इसमें 21 मई से 25 मई तक की परमीशन मिली थी। 20 मई को जब स्वास्थ्य विभाग की टीम जांच करने वाली पहुंची तो विनय के वहां से गायब होने का पता चला। इसके चलते क्वारैंटाइन सेंटर की भी लापरवाही सामने आई है। उन्हें युवक के नहीं होने और वहां से फरार होने का पता ही नहीं चल सका। फिलहाल, पुलिस मामले की जांच कर रही है। विनय के लौटने के बाद सारा मामला सामने आ सका है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here