बालोद… जिले के अंतिम छोर में बसा अरमरी कला से धनेली मार्ग जिसे अभी हाल ही में बनाया गया है. उक्त सड़क पर सरकार करोड़ो रुपए खर्च कर बनवा रही है. सड़क है कि टूटने से बाज नहीं आते हैं।कई जगहो को तोड़ तोड़ कर रिपेयरिंग की गया है. निर्माण कम्पनी द्वारा घटिया मटेरियल का खुलकर उपयोग किया गया है जिसकी वजह से 3से 4महीने में कई जगह टूट गई. जिसे रिपेयरिंग कर बनाया गया है. उक्त सड़क पर घटिया निर्माण से सम्बन्धित जानकारी पी डब्ल्यू डी के अधिकारियों को दिया गया था. लेकिन विभागीय अधिकारियों द्वारा ठेकेदार से मिलजुल कर मामले को दबा दिया गया. सूत्रों के मुताबिक ये वही सड़क है. जिसे पूर्व विधायक मदन लाल साहू ने विधायक बनने के बाद घोषणा किया था. माननीय विधायक जी के दिवंगत होने के बाद उनके सपनो को पूरा करने के लिए उनकी धर्म पत्नी कुमारी मदन साहू ने बाग़डोर संभाली थी. लेकिन अपने कार्यकाल के दौरान एक बार भी इस सड़क की ओर ध्यान नहीं दिया. मानो उस मार्ग को किसी की नजर लग गई हो. तत्कालीन विधायक भैया राम सिन्हा ने उक्त मार्ग के बारे में विभागीय अधिकारियों से बात की और मार्ग निर्माण के लिए अरमरीकला मे एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया. विभागीय अधिकारियों के असवासन के बाद सड़क बनाने में तत्परता दिखाई. अब जब सड़क निर्माण कार्य प्रारंभ हुआ तो ग्रामीणों में खुशी देखी जा सकती थी. पर ना जाने इस सड़क को किसने नजर लगाई है. की बनते बनते. टूट जा रही थी. समझ नहीं आ रहा था. की नया निर्माण किया जा रहा है कि पुराने सड़क पर रिपेयरिंग की जा रही है. वाकई ऎसे ठेकेदारों को पुरुस्कार मिलना चाहिए. एक तरफ सड़क निर्माण करते रहो. और दूसरी तरफ रिपेयरिंग होती रहे. और विभागीय अधिकारियों की सहयोग से ऎसे काम होते रहे. निर्माण ठेकेदार द्वारा अभी तक निर्माण से संबंधित कोई भी जानकारी नहीं दी गई और ना ही कहीं पर सूचना बोर्ड लगा है. निर्माण से संबंधित अनुविभागीय अधिकारी से शिकायत किया गया था. लेकिन निर्माण कम्पनी के ऊपर कोई भी कार्यवाही नहीं की गई है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here