दहेज प्रताडऩा का मामला: 12 के खिलाफ जुर्म दर्ज

0
16

कोरबा। एक विवाहिता ने ससुराल पक्ष के 12 सदस्यों के खिलाफ दहेज प्रताडऩा का मामला बांकी मोंगरा थाना में दर्ज कराया है। बांकी मोंगरा पुलिस विवाहिता की रिपोर्ट के आधार पर दहेजलोभियों के खिलाफ अपराध क्रमांक 246/18 धारा 498 ए, 34 का मामला दर्ज कर कार्रवाई की है।
जानकारी के अनुसार, जांजगीर चांपा जिले के बलौदा थाना अंतर्गत ग्राम लेवई में रहने वाली रागिनी अनंत का विवाह 29 अप्रैल 2016 को बांकी मोंगरा थाना क्षेत्र के चाकाबुड़ा निवासी रविन्द्र कुमार अनंत के साथ पूरे सामाजिक रीति-रिवाज के साथ हुआ था। विवाह में मायके पक्ष के द्वारा नगदी रकम, सोने-चांदी के जेवरात सहित अन्य सामान दिया था। रागिनी अनंत बड़े परिवार से जुड़ी हुई है। इसी का फायदा ससुराल पक्ष के सदस्यों के द्वारा उठाया जा रहा था। एक वर्ष बाद रागिनी ने एक पुत्री को जन्म दिया। परिवार में पुत्री के जन्म होने के बाद ससुराल पक्ष नाराज हो गया और आए दिन दहेज के लिए शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताडि़त करने लगे। कुछ दिन पूर्व आईटीआई महिला सहायता व परामर्श केन्द्र में काऊसिलिंग कराया गया।

लेकिन यहां मामले का निपटारा नहीं हो सका। लगातार ससुराल पक्ष द्वारा रागिनी को दहेज के लिए प्रताडि़त कर रहे थे। 10 लाख या कार लाने की बात कहकर ससुराल पक्ष के सदस्यों ने 3 मार्च 2018 को मायके छोड़ दिए। कार या 10 लाख रुपए लाने पर ही ससुराल वापस लौटने की बात कही। रागिनी ने 5 दिसंबर को बांकी मोंगरा थाना में रिपोर्ट दर्ज कराया कि पति व ससुराल पक्ष के सदस्यों द्वारा उसे दहेज के लिए शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताडि़त करते हैं। बांकी मोंगरा पुलिस इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पति रविन्द्र कुमार अनंत, ससुर रामलाल अनंत, सास चंपा बाई, डेढ़ सास रजनी भारद्वाज, राजेश्वरी, ननंद राधिका, रानिका, नंदोई मधुसूधन निराला, करन भारद्वाज, सुखसागर, ललित जांगड़े, राजाराम खरे व चमेल के खिलाफ दहेज प्रताडऩा का मामला दर्ज कर मामले की जांच आरंभ कर दी है।