नौ फिल्मों की सम्मिलित टुकड़ी का नाम है ‘डिज्नी प्लस मल्टीप्लेक्स’वरुण धवन की मेजबानी में लाइव आएंगे आलिया भट्ट, अभिषेक बच्चन, अक्षय कुमार और अजय देवगन, फिल्मों की रिलीज डेट अनाउंस करेंगे

अमित कर्ण.

सोमवार को वरुण धवन की मेजबानी में आलिया भट्ट, अभिषेक बच्चन, अक्षय कुमार और अजय देवगन जूम कॉल पर अपनी अपकमिंग फिल्मों की रिलीज की अनाउंसमेंट करने जा रहे हैं। इन सितारों की फिल्म आने वाले महीनों में डिज्नी प्लस और हॉटस्टार प्लेटफॉर्म पर OTT रिलीज हो रही हैं।

आलिया भट्ट की सड़क 2, अभिषेक बच्चन की ‘ द बिग बुल’, अक्षय कुमार की ‘लक्ष्मी बम’ और अजय देवगन की ‘भुज’ हैं। भारतीय सिनेमा के इतिहास में ऐसा पहली बार है, जब एक साथ इतने बड़े नामों की फिल्में डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज हो रही हैं। डिजनी प्लस हॉटस्टार अपने प्लेटफार्म पर बॉलीवुड की होम डिलीवरी कैंपेन के नाम से रिलीज करता रहेगा। इसके तहत उसने अभी फिलहाल 8 से 9 फिल्मों को एक्वायर  किया है। 

अगस्त सितंबर के बाद सिनेमाघरों के खुलने की स्थिति को देखते हुए आगे की फिल्मों की अनाउंसमेंट की जाएगी। सोमवार को आयोजन में अभिषेक बच्चन, अजय देवगन, अक्षय कुमार, आलिया भट्ट ओटीटी प्लेटफॉर्म के भविष्य पर भी चर्चा करेंगे।

सूत्रों ने बताया कि वरुण धवन फिलहाल इस कार्यक्रम की मेजबानी करेंगे। उनकी फिल्म ‘कुली नंबर वन’ को लेकर अभी स्थिति साफ नहीं है कि वह भी डिजिटल पर आ रही है कि नहीं? बॉलीवुड की होम डिलीवरी के तहत अगस्त में किस फिल्म के साथ शुरुआत की जाएगी, उस पर अधिकारिक घोषणा कार्यक्रम में की जाएगी। 

डिज्नी प्लस हॉटस्टार उस कंपनी के तहत आती है, जिसके दायरे में स्टार प्लस, स्टार गोल्ड भी हैं। इन सबके साथ अजय देवगन, अक्षय कुमार का पुराना नाता रहा है। अजय और सलमान के साथ स्टार की कुछ साल पहले 400 करोड़ की डील हुई थी।

अजय को जब कंपनी ने ‘भुज’ डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज करने का ऑफर दिया तो अजय मना नहीं कर सके। अक्षय कुमार की हाउसफुल सीरीज की फिल्में भी इसी कंपनी के साथ बनती और डिस्ट्रीब्यूट होती रही हैं। अभिषेक बच्चन की द बिग बुल भी अजय देवगन के को-प्रोडक्शन की है।

अगस्त के अंत में रिलीज हो सकती है ‘सड़क 2’

आलिया भट्ट की सड़क की कुछ दिनों की शूटिंग बाकी है। इसके पोस्ट प्रोडक्शन का काम होना है। ऐसे में उसे डिजिटल प्लेटफॉर्म पर अगस्त के आखिरी शुक्रवार तक रिलीज किया जा सकता है। आलिया का इस तरह का पहला एसोसिएशन इस कंपनी के साथ है।

डिजिटल रिलीज से सिनेमाघरों को खतरा नहीं

इन बड़े सितारों की फिल्मों के डिजिटल पर जाने से डिस्ट्रीब्यूटर और एग्जीबिटर बिरादरी ने अभी तक विरोध दर्ज नहीं किया है। डिस्ट्रीब्यूटर अक्षय राठी का कहना है कि फिल्मों को कहां पर देना है, इसका अधिकार और फाइनल कॉल हमेशा प्रोड्यूसर का होता है। वे फिल्में बनाते हैं। निर्माताओं और एक्जीबिटर के बीच 100 साल का संबंध है। वह कभी नहीं टूटेगा। अच्छी बात यह है कि सिनेमा हर हाल में रहेगा। सिनेमाघरों में नए कंटेंट की कमी नहीं है, वे जब भी खुलेंगे, तब चलेंगे।

6 महीने में तैयार हो रही हैं फिल्में

टेक्नोलॉजी इतनी एडवांस हो चुकी है कि 6 महीने में ही बड़े बजट की फिल्में भी शूट होकर रिलीज की दहलीज तक पहुंच जाती है। ऐसा रोहित शेट्टी से लेकर संजय लीला भंसाली तक भी कर लेते हैं। अक्षय कुमार तो साल में ऐसी चार फिल्में तैयार कर लेते हैं। तो हिंदी और गैर हिंदी भाषी फिल्मों को जोड़ लिया जाए तो अगले छह, आठ महीने में सिनेमाघरों के लिए भरपूर कंटेंट रहने वाला है। वे जैसे ही खुलते हैं, वैसे ही काम शुरू हो जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here