रायपुर, 18 मार्च । पैसा कमाने के नाम पर अवैधानिक तरीके अपनाने में अपराधिक किस्म के लोगों को कोई संकोच नहीं होता आए दिन शिक्षित बेरोजगारों की तकलीफ को धोखाधड़ी कर नौकरी दिलाने के नाम पर काम करने वालों का सुनियोजित गिरोह बड़े पैमाने पर धोखाधड़ी की वारदातों में वृद्धि कर रहा है। आमानाका थाने से मिली जानकारी के अनुसार श्रीमती प्रगति बाजपेयी आयु 32 वर्ष पति मोहित बाजपेयी निवासी पार्थिव नगर मोहबा बाजार को दीपक शर्मा पिता हरेंद्र शर्मा निवासी आडवानी नगर बिरगांव उरला द्वारा डीएमएफ एंड कंपनी में काम दिलाने के नाम पर 20 लाख रुपये किस्तवारी के नाम पर लेकर धोखाधड़ी की गई। उक्त मामले में आमानाका थाने ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 के तहत मामला कायम किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here