pradushan
Chhattisgarh Durg-Bhilai

भिलाई: प्रदूषण प्रमाण पत्र नहीं होने पर हुआ कार्रवाई

भिलाई: सोमवार को नेहरूनगर गुरुद्वारा के पास उस समय हड़कंप मच गया जब यातायात पुलिस और परिवहन विभाग की ओर से अचानक चार पहिया वाहनों के प्रदूषण की जांच शुरू कर दी। यातायात के अधिकारी और जवान गुरुद्वारा से गुजरने वाले वाहनों के प्रदूषण की जांच की। जांच के दौरान 110 वाहनों में प्रदूषण प्रमाण पत्र नहीं पाया गया। यातायात विभाग ने ऐसे वाहनों से कुल 62 हजार रुपए जुर्माना के तौर पर वसूल किया गया। यातायात विभाग ने गुरुद्वारा तिराहा पर ही तीन चलित प्रदूषण केन्द्र बनाए थे। जिसमें प्रदूषण प्रमाण पत्र नहीं होने वाली गाडिय़ों के प्रदूषण की जांच की गई।
यातायात विभाग के अधिकारी ने बताया कि प्रदूषण जांच ना कराने वाली गाडिय़ों पर इस तरह की कार्रवाई लगातार जारी रहेगी। गौरतलब है कि वाहनों से बढ़ते प्रदूषण को रोकने सुप्रीम कोर्ट ने 1996 में सभी वाहनों के प्रदूषण जांच का आदेश दिया था। दुर्ग जिले में हाइवे अन्य सड़कों पर दौडऩे वाले कई वाहनों से अधिक धुआं निकल रहा है।

क्या है समस्या :
सात लाख वाहनों की जांच के लिए जिले में पर्याप्त पीयूसी मशीनें नहीं है। जिस कारण यह जांच भी धीमी गति से हो रही है। आरटीओ के सामने अन्य कुछ जगहों पर जांच होती है। जिसके बाद सर्टिफिकेट दिया जा रहा है। लेकिन लोग गंभीरता नहीं दिखाते। अभी तक फोर व्हीलर, टू व्हीलर वाहनों में से 20 प्रतिशत वाहनों की भी प्रदूषण जांच नहीं हो सकी है। वे ही वाहन मालिक जांच के लिए पहुंचते हैं, जिन्हें आरटीओ से परमिट लेना है या जो प्रदेश से बाहर वाहन लेकर जाते हैं।
यातायात विभाग हाइवे पर वाहनों के प्रदूषण की जांच करवाता है। इधर ग्रामीण और टाउनशिप एरिया में प्रदूषण फैलाने वाले वाहन दौड़ रहे है। जिसमें गांवों के साथ बीएसपी सेक्टर एरिया में दौड़ रहे वाहन शामिल हैं। जो मध्यप्रदेश के समय से भी पहले के हैं। न तो इन्हें बंद किया जा रहा है ओर न ही जांच हो रही है।

वाहनों का क्या है मापदंड :
डीजल वाहनों में 65 प्रतिशत से अधिक कार्बन उत्सर्जित नहीं होना चाहिए। अधिक उत्सर्जित होने पर यह टेस्ट में फेल मानी जाती है। पेट्रोल 2 स्ट्रोक वाहनों में 4.5 प्रतिशत से अधिक कार्बन नहीं होना चाहिए। वहीं 4 स्ट्रोक वाहनों में 3.5 प्रतिशत से अधिक कार्बन नहीं निकलना चाहिए। ऐसे वाहनों को तुरंत रोका जा सकता है।
यातायात डीएसपी सतीश सिंह ठाकुर ने बताया कि प्रदूषण की जांच कराने वाली गाडिय़ों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। सोमवार को गुरुद्वारा चौक में कुल 110 गाडिय़ों की जांच कर उनसे जुर्माना वसूल किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *