Chhattisgarh jashpur

पत्थलगांव में दंतैलों ने 2 महिलाओं को पटक-पटक कर मारा, 1 गंभीर

पत्थलगांव : जशपुर के पत्थलगांव के पास रायगढ़ जिले के ठाकुरपोड़ी गांव में सोमवार को दो दंतैलों ने जमकर उत्पात मचाया। इस दौरान गांव के कुएं पर पानी भरने गई दो महिलाओं को इन हाथियों ने पटक-पटक कर मार डाला।

इनकेनाम सुकरोबाई पति उदयराम और बुधनी बाई पति शीतल बताए जा रहे हैं। ये जानकारी रायगढ़ के वन मंडल अधिकारी प्रणय मिश्रा ने दी। उन्होंने कहा कि बारह हाथियेां के दल से दो दंतैल बिछड़ गए थे। इनको रोकने की वन विभाग ने काफी कोशिश की मगर नहीं रोक पाए।

आखिरकार सोमवार को सुबह इन दोनों ने टाकुरपोड़ी गांव में जमकर उत्पात मचाया। स्थानीय निवासी वीरेंद्र सिंह ने कहा कि दोनों हाथी समीपवर्ती गांव भेलवांटिकरा में मौजूद थे। इससे गांव वासी अंजान थे। सुबह-सुबह सुकरोबाई और बुधनी बाई कुएं पर पानी थर रही थीं। उनको भनक भी नहीं लग पाई कि कब उनके करीब जंगली दंतैल जा पहुंचा।

उसने सूंड़ में लपेटकर सुकरोबाई को ऊपर उछाल दिया। इसके बाद गिरते ही दोबारा सूंड़ में लपेटकर जोर से पटक दिया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। उधर दूसरे हाथी ने बुधनी बाई पर जानलेवा हमला किया और उसकी भी मौके पर मौत हो गई। वहीं कुछ दूरी पर राजकुमारी नामक और महिला थी जिसने भाग कर अपनी जान बचाई। उसे भी कुछ चोटें आई हैं राजकुमारी गर्भवती बताई जा रही है। उसे पत्थलगांव सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उसका इलाज चल रहा है।

जोर-जोर से चिग्घाड़ रहे थे दोनों दंतैल : 

जिला कांग्रेस अध्यक्ष पवन अग्रवाल ने वन विभाग पर नाकामी का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि यहां का वन विभाग का अमला पूरी तरह नागरिकों की सुरक्षा कर पाने में फेल साबित हुआ है। उन्होंने कहा कि दो हाथियों को आज सुबह किलकिला में देखा गया था। इसकी सूचना भी वन कर्मियों को दे दी गई थी। अगर इनको रोक लिया गया होता तो ये घटना नहीं होती।

मृतकों के परिजनों को मिली सहायता राशि: 

घटना के बाद मृतकों के परिजनों को वन मंडल अधिकारी प्रणय मिश्रा ने 25-25 हजार की सहायता राशि दिलवाई है। घटना के बाद से ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। तो वहीं दोनों ही घरों में कोहराम मचा है। सर्दी में जिन गरीबों के आशियाने टूट गए हैं उनके आंसू रोके नहीं रुक रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *