Chhattisgarh India

किसानों के लिए खुशखबरी, 97 प्रतिशत बारिश होने की संभावना

नई दिल्ली:  देश भर में इस साल अच्छी बारिश होने का अनुमान लगाया गया है। भारतीय मौसम विभाग के डीजी केजी रमेश ने आज प्रेस कान्फ्रेंस में कहा कि देश में 97 प्रतिशत बारिश होने का संभावना है। बता दें कि भारत की अर्थव्यवस्था के लिए मानसून बेहद अहम कारक माना जाता है। वर्ष 1951 – 2000 तक देश में 89 सेमी बारिश हुई है।

भारत मौसम विभाग के महानिदेशक केजी रमेश ने यहां संवाददाता सम्मेलन में बताया कि इस साल देश में मानसून लंबी अवधि का औसत 97 फीसदी रहेगा जो इस मौसम के लिए सामान्य होगा। उन्होंने बताया कि देश में मानसून में कमी रहने की ‘‘ बहुत कम संभावना ” है। मानसून के शुरुआत की तिथि की घोषणा मई के मध्य में की जाएगी। देश में उस मानसून को सामान्य माना जाता है जब औसत बारिश, लंबी अवधि के औसत का 96 से 104 फीसदी रहती है।

गौरतलब है कि भारतीय अर्थव्यवस्था पर अच्छी मानसून का असर देश की अर्थव्यवस्था पर पड़ता है। भारत की ज्यादातर खेतिहर जमीन में सिंचाई का आभाव है। देश की जीडीपी में कृषि का योगदान 16 प्रतिशत है। वहीं कृषि से देश के 50 प्रतिशत लोगों को रोजगार मिलता है। हालांकि 153 जिलों में सूखे की संभावना है। बिहार – झारखंड के उत्तर पश्चिम के कई जिलों में सामान्य से कम बारिश हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *