katai
Chhattisgarh surajpur

गुरु घासीदास राष्ट्रीय उद्यान में अवैध कटाई

सूरजपुर: जिले के दूरस्थ अंचल बिहारपुर क्षेत्र में मध्यप्रदेश राज्य सीमा से सटे गुरु घासीदास राष्ट्रीय उद्यान में जंगलों की अवैध कटाई जारी है। वहीं वनकर्मियों की भूमिका संदिग्ध होने के बाद अब वन विभाग जंगल की कटाई करने वालों के खिलाफ कार्रवाई में जुट गया है।

दरअसल, दूरस्थ अंचल बिहारपुर के बैजनपाठ गांव मध्यप्रदेश के सीमा में स्थित है जहां गुरु घासीदास राष्ट्रीय उद्यान से घिरा हुआ है। ऐसे में ग्रामीणों का आरोप है कि कुछ वनकर्मियों द्वारा मिलीभगत कर पेड़ों की अवैध कटाई कर मध्यप्रदेश राज्य में भेजा जा रहा है।

लिहाजा, ग्रामीणों ने इसकी शिकायत वन विभाग के उच्च अधिकारियों से भी की है। वहीं उद्यान से लकड़ियों की कटाई की बात सामने आने के बाद वन परिक्षेत्र महुली के रेंजर बी. आर. भगत का दावा है कि बैजनपाठ में सौर ऊर्जा की सुविधा देने के लिए क्रेडा विभाग के ठेकेदार द्वारा बिना अनुमति के पेड़ों की कटाई की गई है. उनका कहना है कि लकड़ियों को जब्त कर अब ठेकेदार के विरुद्ध कार्रवाई की प्रक्रिया जारी है।

वहीं रेंजर ने वनकर्मियों की मिलीभगत से होने वाली लकड़ियों की कटाई की शिकायत को साफ नकार दिया है। उनका कहना है कि वनकर्मियों ने नहीं बल्कि क्रेडा विभाग के ठेकेदारों ने सोलर लाइट का टावर लगाने के लिए बिना किसी अनुमति के अपनी मर्जी से पैड़ों की कटाई करवाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *