ricket
Sports

IND vs SA: बारिश के कारण तीसरे दिन का खेल रद्द

केपटाउन: लगातार बारिश के कारण भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच यहां के न्यूलैंड्स स्टेडियम में खेले जा रहे पहले क्रिकेट टेस्ट का तीसरा दिन बारिश की भेंट चढ़ गया। तीसरे दिन एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी और ग्राउंड फील्‍ड गीला होने के कारण अम्‍पायरों ने तीसरे दिन का खेल रद्द करने का फैसला किया। रविवार को तेज बारिश की भविष्यवाणी की गई थी और सुबह जल्द ही बारिश होने लगी। मैच शुरू होने के समय से कुछ देर पहले बारिश तेज हो गई। आउटफील्ड पर कई जगह पानी जमा हुआ देखा जा सकता था।

दक्षिण अफ्रीका ने ली 142 रन की बढ़त
दक्षिण अफ्रीका की टीम ने दूसरी पारी में दो विकेट गंवाकर 65 रन बनाए हैं और भारत पर 142 रन की बढ़त हासिल कर चुकी है। हाशिम अमला चार और कागिसो रबादा दो रन बनाकर क्रीज पर डटे हैं। आलराउंडर हार्दिक पांड्या ने अपने चयन को सही साबित करते हुए दूसरे दिन बड़ी अर्धशतकीय पारी खेलने के बाद दक्षिण अफ्रीका के दोनों सलामी बल्लेबाजों को भी पवेलियन भेजा और भारत की पहले टेस्ट क्रिकेट मैच में वापसी की उम्मीदों को बरकरार रखा। भारत के मुख्य बल्लेबाजों का फीका प्रदर्शन जारी रहा लेकिन अगर टीम 200 रन के पार पहुंच पाई तो उसका पूरा श्रेय पांड्या को जाता है जिन्होंने 95 गेंदों पर 93 रन की आकर्षक पारी खेली और इस बीच भुवनेश्वर कुमार (86 गेंदों पर 25 रन) के साथ आठवें विकेट के लिए 99 रन जोड़े। इससे एक समय सात विकेट पर 92 रन के स्कोर पर संघर्ष कर रही भारतीय टीम 209 रन तक पहुंचने में सफल रही।

पांड्या छाए
सही मायनों में खेल का दूसरा दिन पांड्या के नाम रहा। उन्होंने भारत के महान आलराउंडर कपिल देव के 59वें जन्मदिन पर दिखाया कि वह वास्तव में देश का दूसरा कपिल देव बनने की क्षमता रखते हैं। बल्लेबाजी में उन्होंने कपिल की तरह बेपरवाह बल्लेबाजी करके 14 चौके और एक छक्का लगाया और इसके बाद गेंदबाजी में कमाल दिखाकर दक्षिण अफ्रीका के दोनों सलामी बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा। उन्होंने अब तक चार ओवर में 17 रन देकर दो विकेट लिए हैं।

भारत ने झटके 2 विकेट
दक्षिण अफ्रीका ने दूसरी पारी में सहज शुरूआत की। एडेन मार्कराम (34) ने रन बनाने का बीड़ा उठाया जबकि पहली पारी में तीसरी गेंद पर आउट होने वाले डीन एल्गर (25) ने विकेट बचाए रखने को तरजीह दी। इन दोनों ने लगभग एक घंटे तक भारत को सफलता से वंचित रखा। आखिर में पांड्या ही भारत के बचाव में आगे आये जिन्होंने 11वें ओवर में दूसरे बदलाव के रूप में गेंद संभाली और अपने तीसरे ओवर में टीम को सफलता दिलाई। पांड्या की शार्ट पिच गेंद को मार्कराम ने पुल करने की कोशिश की लेकिन गेंद उनके बल्ले के ऊपरी हिस्से से लगकर हवा में लहरा गई और प्वाइंट पर भुवनेश्वर के पास पहुंच गयी। अगले ओवर में उन्होंने दूसरे सलामी बल्लेबाज एल्गर को विकेट के पीछे कैच कराकर भारतीय खेमे में दिन में दूसरी बार जोश भरा। स्टंप उखडऩे के समय हाशिम अमला चार और रात्रिप्रहरी कैगिसो रबादा दो रन पर खेल रहे थे।</>

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *