naxli
Chhattisgarh Jagdalpur

जगदलपुर: इनामी नक्सली नेता गणेश उइके को लगी गोली

जगदलपुर: (बस्तर) में बीते मंगलवार को नक्सली गणेश उइके और उसके अन्य दो साथियों को पुलिस के सर्च ऑपरेसन के दौरान गोली लगी है. बस्तर आईजी विवेकानंद सिन्हा ने इसकी पुष्टि की है. वहीं दंतेवाड़ा जिले के एएसपी जी. एन. बघेल का दावा है कि तीन दिन के सर्च ऑपरेशन के बाद हिरोली के ड़ोकापारा के जंगल में गणेश उइके मौजूद था.

बस्तर आईजी विवेकानंद सिन्हा का कहना है कि अब बस्तर संभाग में बड़े नक्सलियों को टारगेट कर उन्हें हिट करने के लिए एनकाउंटर शुरू किए जा रहे हैं. हालांकि इस अभियान के दौरान गोली लगने के बाद नक्सली गणेश उइके भागने निकलने में सफल हो गया है, लेकिन जल्द ही पुलिस उसे गिरफ्तार कर लेगी..

आपको बता दें कि नक्सली गणेश उइके पर प्रदेश सरकार ने 25 लाख रुपए का इनाम घोषित कर रखा है. वह साउथ जोनल कमेटी का ब्यूरो हेड है. इसके अलावा वह दंडकारण्य स्पेशल जोनल कमेटी का प्रमुख भी है. साथ ही साथ गणेश तीन डिवीजन का इंचार्ज भी है. इसमें पश्चिम बस्तर, दक्षिण बस्तर और दरभा डिवीजन आते हैं. चलने फिरने में असमर्थ और उम्र दराज होने के बाद भी नक्सली दलम में उसकी अहमियत है, इसीलिए नक्सलियों ने उसे अब तक अलग नहीं किया है.

पुलिस के मुताबिक बेहद गोपनीय सूचना के आधार पर गणेश उइके की मौजूदगी की जानकारी मिलने पर जवानों की टीम तैयार की गई. गणेश उइके की सुरक्षा में हरदम 50 नक्सली लगे रहते हैं. उइके के बैलाडीला की पहाड़ियों के पीछे दंतेवाड़ा-बीजापुर के बॉर्डर में छिपे होने की सटीक सूचना पर 190 डीआरजी और एसटीएफ के चुनिंदा जवानों को भेजा गया था. जहां वह छिपा हुआ था उस इलाके में जगह जगह नक्सलियों ने स्पाइक होल लगा रखे थे, जिनसे बचना भी जरूरी था.

वहीं एनकाउंटर के बाद सर्चिंग में पुलिस को जंगल से एक प्रिंटिंग मशीन मिली. यह पहली बार है जब नक्सलियों की प्रिंटिंग मशीन जंगल में मिली है. इसके अलावा भी बहुत सा अन्य सामान भी बरामद हुआ है.

नक्सल इलाकों में अब नए कैंप 4 महीनों तक नहीं खोले जाएंगे. जनवरी अंत से लेकर बारिश आने तक पुलिस सड़क और विकास कार्य ही कराएगी. डीआईजी सुंदरराज पी ने यह बताते हुए कहा कि हर साल नक्सली फरवरी के बाद टीसीओसी यानी टैक्टिकल काउंटर ऑफेंसिव कैंपेन चलाते हैं, जिसमें कोई चूक या नुकसान न हो इसके लिए अभी से प्लानिंग कर ली गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *