Bijapur Chhattisgarh Dantewada Jagdalpur Kondagaon Narayanpur Sukma

सड़क निर्माण में लगे दर्जनों वाहन को नक्सलियों ने फूंका

सुकमा। गुरुवार को नक्सलियों ने साल के अब तक की सबसे बड़ी आगजनी की घटना को अंजाम दिया है। सुकमा जिले के किस्टाराम से 2 किमी दूर कांसाराम के पास सड़क निर्माण में लगे करीब तीन दर्जन वाहनों को आग के हवाले कर दिया। ठेकेदार के कर्मचारी व मजदूरों को बंधक बनाकर उनके साथ जमकर मारपीट भी की।

बाद में उन्हें धमकी देते हुए छोड़ दिया। इस घटना में करीब 4 से 5 करोड़ का नुकसान होना बताया जा रहा है।

जिले से कोंटा ब्लॉक में तेलंगाना की सीमा पर किस्टाराम से चिंतलनार की ओर सड़क निर्माण का काम चल रहा है। गुरुवार की शाम लगभग 5 बजे काम खत्म होने के बाद कर्मचारी व मजदूर किस्टाराम कैंप लौटने की तैयारी कर रहे थे।

इसी दौरान 200 से अधिक हथियारबंद नक्सली आ धमके। नक्सलियों ने निर्माण कंपनी अमर कंस्ट्रक्शन के कर्मचारी और मजदूरों की जमकर पिटाई करने के बाद वहां खड़े करीब तीन दर्जन वाहनों को एक-एक कर आग लगा दिया।

इनमें ठेकेदार के 3 हाइवा, 2 अजाक्स मशीन, 2 ट्रैक्टर व 1 वाइव्रा मशीन समेत निर्माण कार्य में लगे ग्रामीणों के 20 से अधिक ट्रैक्टर शामिल हैं। वारदात से सहमे कर्मचारी और मजदूर किस्टाराम थाने पहुंचे और पुलिस को घटना की जानकारी दी। घटनास्थल किस्टाराम थाना से महज 2 किमी दूर है। ऐसे में सड़क निर्माण में सुरक्षा के दावे पर भी सवाल उठ रहे हैं।

इस साल की प्रमुख घटनाएं

2 जून : कोंडागांव- हंगवा गांव में सड़क निर्माण में लगे जेसीबी, पिकअप, मिक्सर मशीन, वाइब्रेटर व अन्य मशीन।

11 जुलाई : कांकेर- बरबसपुर आयरन ओर माइनिंग साइट पर 18 वाहन (15 ट्रक, एक लोडर, एक एक्सकेवेटर, एक पिकअप)

22 अक्टूबर : दंतेवाड़ा- कामालूर स्टेशन के पास 5 वाहन (4 डम्पर, एक पोकलेन), 4 में तोड़फोड़।

17 दिसंबर : मलकानगिरी (ओडिशा)- खैरपुट ब्लॉक के अंडारहाल पंचायत में पीएमजीएसवाय के निर्माण में लगे 4 वाहन।

इनका कहना है

शाम 5 बजे के आसपास नक्सलियों की बटालियन नंबर वन ने वारदात को अंजाम दिया। घटना की जांच जारी है।

अभिषेक मीणा, एसपी सुकमा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *