CM
Chhattisgarh Raipur

प्रदेश का कोई कोना नहीं बचेगा जहां बिजली न हो, आदिवासी महोत्सव में सीएम बोले

रायपुर: आदिवासी अंचल के साथ-साथ पूरे प्रदेश में सुविधाओं को पहुंचाने का कार्य किया गया है। आने वाले दिनों में प्रदेश का कोई कोना नहीं बचेगा जहां बिजली नहीं हो। अबुझमाड़ के प्रत्येक गांवों में शत प्रतिशत बिजली पहुंचाई जाएगी।
मुख्यमंत्री रविवार शाम राजधानी में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी अमर शहीद वीरनारायण सिंह के शहादत दिवस पर दो दिवसीय आदिवासी महोत्सव में बोल रहे थे।

उन्होंने आगे कहा कि नक्सलवाद सरगुजा से समाप्त हो गया है और बस्तर से भी समाप्त किया जाएगा, वो दिन दूर नहीं जब बस्तर में भी शांति होगी। ये बातें मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कही।,

मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा कि, आस्था गुरूकुल के तहत नक्सली हिंसा से अनाथ हुए बच्चों की नि:शुल्क शिक्षा और आवासीय व्यवस्था की गई है। निष्ठा योजना के अंतर्गत नक्सल हिंसा से पीडि़त परिवार के बच्चों को प्रदेश के अन्य स्थानों पर निजी संस्थानों में पढ़ाने की व्यवस्था की गई है। प्रयास संस्था नक्सल प्रभावित जिलों के उन बच्चों के लिए है, जिन्होंने अपनी प्रतिभा प्रदर्शित की है और देश की बड़ी-बड़ी संस्थाओं में प्रवेश की इच्छा रखते हैं।

उन्होंने कहा कि, अब प्रदेश में सभी संभागीय मुख्यालयों में प्रयास आवासीय विद्यालय स्थापित कर दिए गए हैं। प्रयास अवासीय विद्यालयों के प्रति बच्चों के रुझान और ललक को देखते हुए सीटों की संख्या 17 सौ से बढ़ाकर 3 हजार 620 कर दी गई है। और अब दसवीं के बदले कक्षा नौवीं से इन संस्थाओं में प्रवेश देने की व्यवस्था की गई है। प्रयास विद्यालयों में पढ़े हुए 23 बच्चे आई.आई.टी. में, 117 बच्चे एन.आई.टी. में, 528 बच्चे विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों और 27 बच्चे मेडिकल कॉलेजों में पढ़ रहे हैं।

महोत्सव में प्रस्तुति देने वाले कलाकारों को प्रोत्साहित कर मुख्यमंत्री ने कहा कि, आदिवासी अंचल से आए सभी कलाकारों ने लोककला, लोक संस्कृति का जीवंत उदाहरण प्रस्तुत किया है। यही छत्तीसगढ़ के पुष्प और उसकी सुगंध हैं। उन्होंने आगे कहा कि, सरकार की एक नई योजना है स्काई योजना।इसके तहत प्रदेश के 55 लाख लोगों को स्मार्ट फोन का वितरण किया जाएगा।

कार्यक्रम में केन्द्रीय जनजातीय कार्य मंत्री जुएल उरांव, केन्द्रीय इस्पात राज्य मंत्री विष्णुदेव साय, मंत्री केदार कश्यप सहित अन्य मंत्री और अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *