rashifal
Dharm

ये हैं 4 सबसे भाग्यशाली राशियाँ जिनपर शनि और मंगल दोनों की ही होती है कृपा

ज्योतिष में नक्षत्रों के समूह को राशि कहते हैं. वैसे भी राशि का शाब्दिक अर्थ है ‘समूह’. आकाश में असंख्य तारे हैं और इसी तारक-समुदाय को सुविधा हेतु समूहों में विभाजित कर लिया गया. फिर उनके आकार साम्य के अनुसार उनका नामकरण कर लिया गया. ज्योतिष में गृह और राशियों का एक दूसरे से सम्बद्ध हैं. ग्रहों को महत्त्व देने के लिए प्रत्येक गृह को नक्षत्रों अथवा राशियों का स्वामी मान लिया गया.

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुल 12 राशियों में से 4 राशियाँ ऐसी होती है जो शनि और मंगल से प्रभावित होती है और ये सबसे ज्यादा भाग्यशाली भी होती हैं आज हम आपको उन्ही 4 राशियों के बारे में बताने जा रहे है कि अन्य राशि के मुकाबले बहुत भाग्यशाली राशि होते है

मेष राशि –

इसमें सबसे पहली जो राशी होती है वो होती है मेष राशी जिनका स्वामी ग्रह मंगल होता है . इस राशि के लोगो में बहुत शाक्ति होती है. और मेष राशि के लोग बहुत ही जिद्दी होते है . ये राशि के लोग जो भी सोचते है वो करके ही रहते है . चाहे जितना मुस्किल से मुस्किल काम हो करके ही हटते है . इस राशि के लोग जो भी काम करते है बहुत ही इमानदारी से करते है क्यों की इनके अन्दर छाल कपट की भावना नहीं होती है . अगर ये दोस्ती करते है तो अच्छी तरह से दोस्ती निभाते हैं.

इस राशि के दोस्त मिलना मुश्किल होता है. अगर कोई इनसे दुश्मनी करता है तो इसे भी वे अच्छे से निभाते हैं. ताकतवर होने के कारण इनकी दुश्मनी लोगों को महंगी पड़ जाती है . और इस राशि लोग बहुत ही भाग्यशाली होते हैं . जिसके वजह से कम मेहनत मे बहुत कुछ मिल जाता है .

मकर राशि –

शनि से प्रभावित इस राशि के लोगों होते है . मकर राशि के लोगों को जीवन में थोड़ी देर से चीजें मिलती हैं लेकिन वे जो भी चाहते हैं उन्हें मिलता है और अपनी सोची हुई चीजों को जरूर पूरा करते है . शनि की एक खूबी यह होती है . यह भले ही मकर राशि वाले लोगो को धीरे-धीरे देते है . लेकिन जो देते है पूरा-पूरा और आवश्य देते है. इस राशि के लोग बहुत ही ताकतवर होते हैं . लेकिन अपनी ताकत का इस्तमाल कभी नहीं करते है . मकर राशि वाले लोग बहुत ही धैर्यवान होते है .

वृश्चिक राशि –

ये राशि मंगल से प्रभावित राशि होता है.इस राशि के लोग अपने मन के भावों को इतनी आसानी से छुपा लेते हैं कि आप कभी सोच भी नहीं सकते कि आपके मन में इनके लिए बैर भावना आ चुका है. इस राशि के जातक मेष राशि के जातकों से थोड़े अलग होते हैं . इसके अलावे जीवन में खुशियां पाने के मामले में ये बेहद भाग्यशाली होते हैं.

इन्हें भी चीजें आसानी से और कम मेहनत में मिल जाती हैं. चाहे वे कितने भी बुरे हालात में हों आसानी से उससे निकल भी जाते हैं . इसलिए अगर ये आप पर हमला भी करते हैं तो आपको पहले से इसका अंदाजा नहीं होगा. इसलिए कभी भी इनसे दुश्मनी मोल लेने की कोशिश ना करें.

 

कुंभ राशि –

कुंभ राशि का स्वामी शनि होते हैं. सामाजिक मान्यताओं का विरोध करने के लिए कुम्भ राशि के लोग जानबूझकर अजीब तरह के कपड़े पहनते है. कुम्भ राशि के लोगों को जीवन में लगातार प्रयोग करने की आदत होती है. आज़ादी को प्रेम करने वाले कुम्भ राशि के लोग अजीब विकृत अभिमानी नवीन और स्वतंत्र हो सकते है. लेकिन इसके साथ-साथ यह लोग कूटनीतिक सहानुभूतिपूर्ण और डरपोक भी हो सकते है. आम तौर पर कुम्भ राशि के लोग शांत और संवेदनशील स्वभाव के होते है.

लेकिन कुम्भ राशि के लोगों को समाज में स्थापित विचारों और मान्यताओं का विरोध करना पसंद होता है. कुम्भ राशि के लोग विद्रोही होते है जिन्हें पुराने रीति-रिवाज़ गलत लगते है. कुम्भ राशि के लोगों को यह लगता है की समाज और लोगों की भलाई के लिए क्रन्तिकारी बदलाव की ज़रुरत है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *