Chhattisgarh Dantewada Raipur

धमाके में सात जवान शहीद

 मुख्यमंत्री के पहुंचने से पहले नक्सलियों ने दर्ज कराई उपस्थिति

 जवानों से भरी बोलेरो फुटबॉल की तरह उछली

 शहीदों के हथियार भी लूटकर ले भागे

बचेली/रायपुर। बारूदी सुरंग में विस्फोट करके नक्सलियों ने रविवार को सुरक्षा जवानों की बोलेरो वाहन को उड़ा दिया। इससे वाहन में सवार जवानों में से सात मौके पर ही शहीद हो गए तथा दो गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें बेहतर उपचार के लिए रायपुर के एक निजी अस्पताल में दाखिल कराया गया है। नक्सलियों ने रविवार को उस स्थान पर अपनी मौजूदगी दर्ज कराई, जहां दो रोज बाद मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह विकाय यात्रा लेकर पहुंचने वाले हैं। दिलचस्प बात यह है कि केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह रविवार को दोपहर बाद अम्बिाकापुर पहुंचे हैं, जहां से वे सोमवार को रायपुर आएंगे और नक्सल समस्या के समाधान के लिए एक उच्चस्तरीय बैठक को सम्बोधित करेंगे।
बचेली से चोलनार मार्ग पर सड़क निर्माण का काम प्रगति पर है। श्रमिकों एवं अन्य कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए सीएएफ और डीएफ का संयुक्त पुलिस बल बोलेरो वाहन में सवार होकर बचेली से कार्यस्थल की ओर रवाना हुआ था। तभी जंगल में घात लगाए नक्सलियों ने बारूदी सुरंग विस्फोट कर दिया। इसकी जद में आकर सात जवानों की घटनास्थल पर ही सांसेंं थम गईं। वाहन में कुल सात जवान ही सवार थे। बस्तर डीआईजी रतनलाल डांगी ने सात जवानों के शहादत की पुष्टि करते हुए बताया कि घटना के बाद समूचे इलाके में अलर्ट जारी कर दिया गया है और गश्त तेज कर दी गई है।

फुटबॉल की तरह उड़ा वाहन

विस्फोट इतना शक्तिशाली था कि वाहन के परखच्चे उड़ गए। विस्फोट से वाहन फुटबॉल की तरह हवा में उड़ गया। और जमीन पर दस फीट गहरा गड्ढा बन गया है। बताया गया है कि नक्सलियों ने करीब छह महीने पहले से ही बारूदी सुरंग बना रखी थी और वे मौके की तलाश में थे।

असलहा लूट ले गए

विस्फोट के बाद नक्सलियों ने घटनास्थल पर आराम से समय गुजारा। उन्होंने शहीद हुए सुरक्षा जवानों की तलाशी ली। उनकी जेबों से उनके सामान के अलावा नक्सलियों ने जवानों के दो एके 47, दो एसएलआर, दो इंसास एवं दो हेंड ग्रेनेड भी लूटकर ले गए।

वापस लौटते समय हुआ हादसा

बचेली-चोलनार मार्ग पर नक्सलियों ने लैंडमाइन ब्लास्ट कर जिस एक्सयूवी 500 वाहन को उड़ाया, दरअसल वह निर्माण सामग्री को सुरक्षित पहुंचाने गए वाहन को सुरक्षा देने के लिए गए थे। वापस लौटते समय यह हादसा हुआ। जैसे ही किरन्दुल से चार किलोमीटर दूर मदड़ी नाले से गाड़ी गुजरी, नक्सलियों के बिछाए 50 किलो बारूद से एक्सयूवी के तीन टुकड़े हो गए। धमाका इतना जोरदार था कि गाड़ी 500 फीट दूर जा गिरी। साथ ही आसपास के पेड़ों पर गाड़ी के पाट्र्स लटके हुए हैं।

50 किग्रा से अधिक का विस्फोटक

चोलनार और किरंदुल के बीच नक्सलियों का लगाया गया विस्फोटक इतना शक्तिशाली था कि धमाके के बाद सड़क पर 7 मीटर का गड्ढा बन गया। नक्सलियों ने वहां 50 किलोग्राम से ज्यादा का विस्फोटक इस्तेमाल किया। एसपी ने इस बात की तस्दीक की है।

रिमोट से ब्लास्ट

 

बचेली-चोलनार में हुए नक्सल मुठभेड़ में एक बड़ी बात सामने आई है। पुलिस ने खुलासा किया है कि जवानों को निशाना बनाने के लिए नक्सली अपने इंटेलिजेंट के दम पर महज महज 15 मिनट में आईईडी प्लांट कर देते हैं। डीआईजी सुन्दराज पी ने बताया कि नक्सलियों ने ट्रिगर कमांड के द्वारा ब्लास्ट किया है। नक्सलियों ने कितनी संख्या और कितना भारी आईईडी प्लांट किया था इसकी जांच के लिए पैरामिलिट्री फोर्स के साथ एफएसएल जवानों की टीम मौके पर भेजी गई है।

विकास यात्रा कल बचेली में

मुख्यमंत्री की मंगलवार को होने वाली विकास यात्रा के ठीक पहले हुए इस नक्सली हमले से पुलिस के भी होश उड़ गए हैं। दो दिन बाद ही मुख्यमंत्री रमन सिंह को बचेली आना है, लिहाजा सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे, लेकिन इसी बीच हुए इस हमले ने पुलिस की चुनौतियां बढ़ा दी है।

समाधान निकालने की कोशिश: राजनाथ

दंतेवाड़ा में हुए नक्सली हमले पर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि नक्सलवाद वर्षों पुरानी समस्या है। इससे निपटने के लिए राज्य सरकारों से बात करके समाधान निकाला जा रहा है। केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि नक्सली आमने-सामने की लड़ाई नहीं करते, ब्लास्ट करके घटना को अंजाम देते हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार अब राज्य सरकार से सामंजस्य बनाकर इस समस्या का हल निकालेगी।

मुंहतोड़ जवाब देंगे: सीएम

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि नक्सली विकास के विरोधी है। ये विकास का विरोध है। मैं जवानों को अपनी श्रद्धांजलि देता हूं। नक्सलियों के इस करतूत का हमारे जवान मुंहतोड़ जवाब देंगे।

ये हुए शहीद

शहीद जवानों में जिला पुलिस बल के प्रधान आरक्षक रामकुमार यादव, आरक्षक टीकेश्वर धु्रव, सहायक आरक्षक सालीगराम, विक्रम यादव, आरक्षक राजेश सिंह तथा आरक्षक वरिन्द्र नाथ, अर्जुन राजवर शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *