Bilaspur Chhattisgarh

गांजा तस्करी में अब स्प्रे का इस्तेमाल, आधा क्विंटल गंजा जब्त

बिलासपुर: कोनी पुलिस ने इलाहाबाद जाने वाले बस की तलाशी लेकर 5 बैग में रखे 59 किलो गांजा जब्त किया है। बस में सवार दो गांजा तस्कर उसे लेकर ओडिशा से इलाबाहाद जा रहे थे। पुलिस को चकमा देने के लिए आरोपियों ने उसमें स्प्रे डाल दिया था। ताकि गांजे की महक बाहर न आ सके।

प्रशिक्षु डीएसपी व कोनी थाना प्रभारी प्रतीक चतुर्वेदी ने बताया कि बीते कि शुक्रवार की रात उन्हें खबर मिली कि रायपुर से आने वाली सिंह ट्रेवर्ल्स की बस में महाराणा प्रताप चौक से दो तस्कर सवार हुए हैं। उनके पास बड़े-बड़े बैग रखे हैं, जिसमें गांजा तस्करी की जा रही है। इस सूचना पर वह अपनी टीम के साथ अलर्ट हो गए।

उन्होंने तत्काल पाइंट लगाकर बस की तलाशी शुरू कर दी। पूछताछ में पता चला कि बस रायपुर से इलाहाबाद जाने के लिए निकली थी। बस की जांच के दौरान पुलिस ने पांच अलग-अलग बैग में रखे गांजे को जब्त कर लिया।

गांजा मिलने के बाद युवक गोलमोल जवाब देने लगे। जांच में यह भी पता चला कि गांजा की कार्रवाई से बचने व पुलिस को तस्करी की भनक न लग इसके लिए बैग में स्प्रे डाल दिया था। पुलिस ने गांजा जबत कर दोनों आरोपियों को पकड़ ली। पूछताछ में पता चला कि इलाहाबाद के खिरी निवासी हिमांशु सिंह पिता कृष्णकुमार सिंह (24) व नैनी इकलाबाद निवासी रोहित सिंह पिता छोटेलाल सिंह (26) शामिल हैं।

2 लाख 95 हजार रुपए कीमती है गांजा

पुलिस के अनुसार जब्त गांजा की कीमत करीब 2 लाख 95 हजार रुपए है। पुलिस का कहना है कि बाजार में गांजा 3 से 5 हजार रुपए किलो बिकता है। ऐसे में 59 किलो गांजा की कीमत का अनुमान लगाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *