rep
Chhattisgarh Raipur

जब भक्षक बन गए पीसीआर के आरक्षक

रायपुर: पीसीआर के आरक्षक ही उनके लिए भक्षक बन गए। पिछले कई माह से पीसीआर -8 में पदस्थ दो आरक्षकों पर एक युवती ने अनाचार करने का आरोप लगाया है। ये जानकारी विधान सभा थाने के टीआई रमेश कुमार निषाद ने दी। उन्होंने कहा कि पिछले कई माह महीनों से क्कष्टक्र. 8 में पदस्थ हैं। पुलिस ने आरोपी आरक्षक हीरालाल निर्मलकर के साथ ही साथी आरक्षक टीकाराम तारक को भी गिरफ्तार किया है। घटना 7 दिसंबर की शाम विधानसभा थाने क्षेत्र की है। दोनों आरोपी आरक्षकों को सस्पेंड कर दिया है। दोनों आरक्षक रायपुर पुलिस लाइन के जवान हैं।
घटना 7 दिसंबर की बताई जा रही है। इन दोनों आरक्षकों पर आरोप है कि कचना के खेत में पंडरी की एक युवती अपने प्रेमी के साथ गई थी। दोनों पुलिस लाइन रायपुर में पदस्थ बताए जा रहे हैं।

क्या है पूरा मामला
टीआई रमेश कुमार ने कहा कि पंडरी इलाके की रहने वाली पीडि़ता ने अपने लिखित बयान में घटनाक्रम का जिक्र करते हुए कहा कि 20 वर्षीय पीडि़ता अपने बॉयफ्रेंड के साथ विधानसभा थाना के कचना के सूनसान खेत में घूमने गई थी, जहां दोनों आरक्षक बाइक से आ धमके। खेत में युवक-युवती को शारीरिक संबंध बनाते देख लेने पर दोनों युवक-युवती को डराने -धमकाने लगे। आरक्षक टीकाराम युवक को खेत से रोड की तरफ ले गया। इसके बाद आरोपी आरक्षक हीरालाल ने युवती के साथ खेत में ही रेप किया। इसके बाद दोनों आरक्षकों ने प्रेमी जोड़े को थाने न ले जाकर मौके से ही छोडऩे के लिए 10 हजार रुपए की मांग की। इस पर युवती के बॉयफ्रेंड ने अपने पर्स में रखे 5 हजार रुपए नगद दिए। बाकी पैसे बाद में देना कहकर प्रेमी युगल को छोड़ दिया।

मोबाइल पर रिकार्ड किया सुबूत
बता दें कि जब युवती ने आरोपी आरक्षक से अपने साथ रेप करने से गर्भ ठहरने का भय दिखाते हुए मोबाइल पर मामले की शिकायत की तो आरोपी आरक्षक ने उसको धमकाते हुए अपने बॉयफ्रेंड का नाम लेने को कहा। इसे महिला ने अपने मोबाइल में रिकॉर्ड कर अपने लिखित बयान में दर्ज करवाया है। पुलिस के आलाधिकारियों के निर्देश पर आरक्षक तारक को पूरी घटना छुपाने और अपराध में साथ देने के आरोप में सहआरोपी बनाते हुए उसके खिलाफ भी मामला दर्जकर आरोपी निर्मलकर के साथ गिरफ्तार किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *