dhokha
Ambikapur Chhattisgarh

अंबिकापुर: आप भी खरीदते है ऑनलाइन सामान, तो हो जाइये सतर्क

अंबिकापुर: मायापुर निवासी एक युवक सेमसंग जे-7 प्राइम मोबाइल कम कीमत में प्राप्त करने के लालच में 38 सौ रुपए गंवा बैठा। युवक के पास भोपाल से एक फोन आया, जिसमें उसे भाग्यशाली ग्राहक बताते हुए उक्त मोबाइल फोन के लिए चयनित किए जाने की जानकारी दी गई थी। महंगे मोबाइल मात्र 38 सौ रुपए में मिलने की जानकारी मिलते ही युवक ने फोन के लिए आर्डर कर दिया। उसके नाम आए पार्सल को खोलने पर उसमें मोबाइल की जगह अनुपयोगी सामान थे। इसकी जानकारी युवक ने कोतवाली पुलिस को दी है।

सत्यम सोनी पिता रविंद्र सोनी ने बताया कि 25 नवंबर को उसके मोबाइल पर सैमसंग कंपनी का जे-7 प्राइम मोबाइल 38 सौ रुपए में मिलने का फोन आया था। फोन करने वाले ने बिजनेस पार्सल डाकघर के माध्यम से मिलने के बाद नकद रकम देकर डिलीवरी प्राप्त करने के लिए कहा था। कम कीमत में अच्छी कंपनी का मोबाइल मिलने के चक्कर में उसने अपना आर्डर बुक कर दिया। डाकघर से पार्सल आने की सूचना जब उसे मिली, तो वह बताई गई रकम लेकर पहुंचा। डाकघर में पार्सल का डाक खर्च 146 रुपए व 38 सौ पार्सल का भुगतान करने के बाद उसने पार्सल प्राप्त कर लिया। पार्सल खोलने पर उसमें जे-7 कंपनी की मोबाइल की जगह टूटा-फूटा लक्ष्मी यंत्र व थर्मोकोल का टुकड़ा मिला। पैकिंग लाल रंग के आकर्षक डिब्बे में किया गया था, जिसमें फ्राम टेली विन मार्केटिंग बी-270, सेक्टर-7 नहरपुर रोहिनी दिल्ली उल्लेखित है। युवक ने जब आर्डर दिया था, उस समय से डिलेवरी तक अलग-अलग तीन नंबरों से फोन आया था। पार्सल में कचरा मिलने के बाद जब वह बताए गए फोन नंबरों को खंगाला, तो उसमें किसी से संपर्क नहीं हो रहा है। ठगी का आभास होने पर इसकी जानकारी कोतवाली पुलिस को दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *