संवेदनशील क्षेत्र में डेढ़ वर्षिय बच्चे के साथ निरीक्षण करते दिखी एसडीओ पूर्णिमा चंद्रा

–संवेदनशील क्षेत्र में डेढ़ वर्षिय बच्चे के साथ निरीक्षण करते दिखी एसडीओ पूर्णिमा चंद्रा

कोंडागॉव–अक्सर पहुंच विहीन क्षेत्रो में विभागीय अधिकारी कर्मचारियों के द्वारा निर्माण स्थलों पर लगातार मॉनिटरिंग न करने के चलते पहुंच विहीन संवेदनशील क्षेत्रो के निर्माण कार्यो में अनियमितता देखने को मिलती है,साथ ही ऐसे क्षेत्रों के सड़को व भवनों को भी तय समय से पहले ही धरासाई होते देखा गया है।
अगर विभागीय जिम्मेदार अधिकारी संवेदनशील क्षेत्रो में पहुंच अपने कर्तव्यो का निर्वहन करें तो,शासकीय योजनाएं सफल हो सकेंगी।
ऐसे ही अपने जिम्मेदारी का निर्वहन करती एक महिला अनुविभागीय अधिकारी पीडब्ल्यूडी पूर्णिमा चंद्रा अपने डेढ़ वर्षिय बच्चे के साथ अतिसंवेदनशील पहुँच विहीन क्षेत्र में नव निर्माणाधीन सड़क का निरीक्षण करते नजर आईं।
महिला अधिकारी न केवल वहाँ पहुंची थी अपितु अपने डेढ़ साल के बच्चे को लेकर तपती धूप में तपती डामर का निरीक्षण करती दिखीं।

–डामर प्लांट व डमारीकारण के कार्य का गुणवत्ता का किया निरीक्षण –
अक्सर संवेदनशील क्षेत्रो में निर्माण कार्यो में अनियमितता की शिकायतें आती रहती है,जिनमे ठंडे डामर के उपयोग से लेकर केमिकल में अनियमितता की भारी शिकायते होती है,महिला अधिकारी न शिर्फ़ निर्माण स्थलों तक पहुंची अपितु नवनिर्माणाधिन सड़को जिनमे
-भैंसा बेड़ा ,बोकरा बेड़ा रोड बड़े डोंगर से देव गाँव निर्मित सड़क के साथ ही डामर प्लांट तक पहुंच गुड़वत्ता की जांच कराती नजर आईं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here