chhattisgarh .co 10 अक्टूबर 2020 :- बॉलीवुड निर्देशक राकेश रोशन पर वर्ष 2000 में हुए हमले में कथित रूप से शामिल एक शातिर बदमाश और शार्पशूटर को पैरोल की अवधि पूरी होने के बाद भी जेल में नहीं लौटने के करीब तीन महीने बाद महाराष्ट्र के ठाणे जिले में गिरफ्तार किया गया है। 

एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को बताया कि 52 वर्षीय सुनील विश्वनाथ गायकवाड को शुक्रवार रात नौ बजे कलवा के पारसिक सर्किल इलाके में पकड़ा गया। 
केंद्रीय अपराध इकाई के निरीक्षक अनिल होनराव ने कहा, “हमें जानकारी मिली थी कि गायकवाड पारसिक सर्किल इलाके में आ रहा है। हमने जाल बिछाया और उसे पकड़ लिया।” 

उन्होंने कहा, “आरोपी के खिलाफ हत्या के 11 मामले और हत्या की कोशिश के सात मामले दर्ज हैं। इनमें से एक मामला 2000 में बॉलीवुड निर्देशक राकेश रोशन की हत्या की कोशिश का है।” 

पुलिस ने बताया कि रोशन को जनवरी 2000 में मुंबई में उनके सांता क्रूज कार्यालय के बाहर गोली मारी गई थी। हमलावरों ने छह गोलियां चलाई थीं, जिनमें से दो गोलियां रोशन को लगी थीं।

अधिकारी ने कहा, “गायकवाड को हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा मिली थी और वह नासिक केंद्रीय कारागार में बंद था। वह 28 दिन के पैरोल पर इस साल 26 जून को बाहर आया था।”

उन्होंने कहा, “पैरोल अवधि पूरी होने के बाद उसे जेल लौटना था। वह लौटा नहीं। उसे कल रात गिरफ्तार किया गया। तब तक वह फरार था।”

अधिकारी ने बताया कि आरोपी 1999 और 2000 में सक्रिय था और कई अपराधों में शामिल था। वह अली बुदेश और सुभाष सिंह ठाकुर के बदमाश गिरोहों में शामिल था।

उन्होंने बताया कि इसी अवधि में वह नासिक में हुई एक डकैती में भी शामिल था, जहां उसने पुलिसकर्मियों पर गोलीबारी की थी।

होनराव ने कहा, “गायकवाड को पंत नगर पुलिस को सौंपा जाएगा, जहां उसके फरार होने का मामला दर्ज किया गया है।” 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here