झारखंड 24 अक्टूबर chhattisgarh.co| आज हम 21वी सदी में जी रहे है जहाँ लोग घर बैठे एक क्लिक के जरिए हर रोग का उत्तम इलाज़ प्राप्त कर सकते है या बिना अस्पताल जाए एक क्लिक व एक फ़ोन के जरिए आस पास के नामी डॉक्टरआपके घर के दरवाजे पर खड़े नजर आ सकते है .

लेकिन झारखंड में एक ऐसा मामला निकल कर सामने आ रहा जहाँ एक सांप ने तीन मासूम बच्चियों को काट लिया तो उनके परिजनों ने दर्द से तडपते मासूमों को इलाज़ के लिए उसे अस्पताल रेफर करने के बजाय तांत्रिक को सौप दिया और सही समय में उचित इलाज न होने के कारण अंततः मासूमों ने अपने प्राण त्याग दिए .

पूरा मामला झारखंड के सिमडेगा जिले के एक ग्राम की बताई जा रही है जहाँ तीन बच्चियां अपने घर के फर्श पर सो रहीं थी। इसी दौरान एक जहरीले सर्प ने तीनों को काट लिया। सर्पदंश के चलते तीनों बच्चियां बेहोश हो गईं। इसकी जानकारी परिजनों को हुई तो उन्होंने एंबुलेंस को कॉल किया, लेकिन नेटवर्क नहीं होने से फोन नहीं लगा। जैसे-तैसे पीडि़त के परिजन बिना कुछ सोच विचार किए अंधविश्वास के चलते बच्चियों को गांव में झाड़ फूंक करने वाले के पास ले गए।लेकिन बच्चियां ठीक नहीं हुई,और अंततः सही समय में उचित इलाज नही मिलने के कारण मासूमो ने प्राण त्याग दिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here