महंगाई ने बढ़ाई टेंशन, प्याज के बाद अब सरसों तेल की कीमतों में तेजी | After  Onion Mustard Oil Prices Rise - Hindi Goodreturns

नई दिल्ली 22 नवम्बर chhattisgarh.co|भारत सरकार ने एक आसान तरकीब जांचने के लिए साझा की है. आप उपाय के जरिए पता लगा सकते हैं कि आपका सरसों तेल आर्जिमोन तेल के साथ मिलाया गया है या नहीं. आर्जिमोन तेल आर्जिमोन बीज से निकाला जाता है. रिपोर्ट से पता चला है कि सरसों की तेल की मात्रा बढ़ाने के लिए आर्जिमोन तेल का मिश्रण किया जाता है.

शोध के मुताबिक, इंसानों में नकली तेल खाने से लाल रक्त की कोशिकाओं की मौत हो सकती है और ऑक्सीटेडिव तनाव का कारण बन सकता है. शरीर को नुकसान आर्जिमोन तेल से उत्पन्न विषाक्तता के कारण होता है. तेल के असली-नकली होने का कैसे पता लगाएं भारत सरकार ने मिलावट को जांचने के लिए ट्विटर पर वीडियो पोस्ट के जरिए समझाया है. सोशल मीडिया पर सामने आए वीडियो के मुताबिक, “सरसों का तेल 5 मिलीलीटर मात्रा लेकर उसे टेस्‍ट ट्यूब में डालें. अब उसमें नाइट्रिक एसिड 5 मिलीलीटर मिलाएं. ट्यूब को आहिस्ता से हिलाएं. अगर मिक्‍सचर मिलावटी नहीं होगा, तो रंग में कोई बदलाव नहीं होगा. मिलावट होने की सूरत में सरसों तेल का रंग नारंगी-पीला से लाल हो जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here