मन्नू चंदेल

CHHATTISGARH.CO DATE 13-12-2020;- आदिवासी बाला के साथ हुए अनाचार के मामले में कबीरधाम पुलिस ने जिस तरह abvp के सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है, कांग्रेस शासनकाल में बदलापुर की राजनीति साबित हो रही है।ज्ञात हो आज से 8 साल पहले जब बाघिन हत्याकांड में बेवजह फॅसे बेकसूर आदिवासियों को न्याय दिलाने वाले 57 कांग्रेसियों के ऊपर मामला दर्ज कर कारवाही की गई थी, टैब ये किसी ने नही सोच होगा कि फिर आदिबासी बाला को साथ 2020 में बदनाम किया जाएगा।आज उसका बदला लेते हुए कांग्रेस ने बदलापुर की राजनीति करते हुऐ आदिवासी बाला के साथ हुए नाइंसाफी के खिलाफ आवाज़ उठाने वाले, छात्रों को जेल की चार दिवारी में बंद कर दिए,। उनका कसूर सिर्फ पुलिस की भूमिका को जनता तक लाना था अब देखो अपने आका के संरक्षण में बलात्कार मामले में अपनी किरकिरी करा चुकी कबीरधाम पुलिस कब तक सामान्य हो पाती है।वरना ये आंदोलन तो चलता रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here