Chhattidgarh.co Date -01-01-2021:-बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया आज 1 जनवरी को अपना 50वां बर्थ-डे सेलिब्रेट कर रहे हैं।  ग्वालियर राजघराने से ताल्लुख रखने वाले ज्योतिरादित्य की दादी विजयाराजे सिंधिया जनसंघ के संस्थापक सदस्यों में से की थीं। वहीं, पिता माधवराव सिंधिया कांग्रेस में थे। पिता के निधन के बाद उनकी राजनीतिक विरासत को ज्योतिरादित्य सिंधिया हीं संभाल रहे थे। लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव में पहली बार वह अपनी गढ़ में ही चुनाव हार गए और कांग्रेस में हाशिए पर चले गए। इसके बाद उन्होंने 2020 की शुरुआत में राजनीति में ऐसा भूचाल लेकर आए कि 15 सालों बाद मध्यप्रदेश में बनी कमलनाथ की सरकार गिर गई। वह मार्च 2020 में अपने 22 विधायकों के साथ बीजेपी में शामिल हो गए

ज्योतिरादित्य के परिवार में उनकी पत्नी और एक बेटा महाआर्यमन सिंधिया व एक बेटी अनन्या राजे हैं। ज्योतिरादित्य की पत्नी प्रियदर्शिनी राजे सिंधिया वड़ोदरा राजघराने की बेटी हैं। प्रियदर्शिनी भी कई बार पति के संसदीय क्षेत्र में प्रचार करती देखीं गई हैं। उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव में भी पति के क्षेत्र में चुनावी कमान संभाल रखी थी। प्रियदर्शिनी राजे के साथ उनके दोनों बच्चे भी क्षेत्र में जाते थे। हालांकि, ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में शामिल होने के बाद वह कभी राजनीतिक कार्यक्रमों में नजर नहीं आई हैं। 

सिंधिया के भाजपा में शामिल होने के बाद आज उनका पहला बर्थ-डे हैं। इसके पहले वह लगभग 18 साल कांग्रेस के साथ थे। उनके खास मित्र और विधायक तुलसी राम सिलावट ने उन्हें जन्मदिन की बधाई देते हुए लिखा है कि  ‘जननायक और मेरे प्रेरणास्त्रोत ज्योतिरादित्य सिंधिया जी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं!प्रभु महाकाल से यहीं प्रार्थना है कि आपकी मुस्कान और प्रखरता को सदैव ऐसे ही आदित्य की भांति ज्योतिर्मय बनाये रखे और जनसेवा करने की आपको असीम शक्ति प्रदान करते रहे’।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here